Ladakh Border विवाद सुलझाने की जिम्मेदारी चीन की नहीं….चीनी राजदूत ने भारत पर लगाए आरोप

लद्दाख मुद्दे (Ladakh Border Standoff) को सुलझाने की जगह अब चीनी राजदूत ने भारत पर भी आरोप लगा दिए हैं. यह भी कहा कि विवाद को सुलझाने की जिम्मेदारी चीन की नहीं है.
Ladakh Border Standoff, Ladakh Border विवाद सुलझाने की जिम्मेदारी चीन की नहीं….चीनी राजदूत ने भारत पर लगाए आरोप

गलवान घाटी में हुई खूनी झड़प को 100 दिन बीत चुके हैं, लेकिन चीन बाज नहीं आ रहा. अपनी गलती मानने की जगह चीन ने उल्टा भारत पर आरोप लगाए हैं. पड़ोसी देश चीन के राजदूत ने कहा है कि लद्दाख मामले (Ladakh Border Standoff) को सुझलाने की जिम्मेदारी चीन की नहीं है. साथ ही भारत पर आरोप लगाए गए हैं कि हमारी सेना ने 15 जून की रात को बॉर्डर क्रॉस किया था.

भारत में मौजूद चीनी राजदूत सुन वेईडोंग (Chinese envoy Sun Weidong) ने यह बात अपनी ऐंबेसी की मैगजीन के एक आर्टिकल में कही है. बुधवार रात को इसका एडिशन सामने आया है.

भारत पर लगाया LAC क्रॉस का आरोप

15 जून को हुए खूनी संघर्ष का जिक्र करते हुए मैगजीन में लिखा गया है कि अगर कोई घटना को ध्यान से देखे तो पता चलेगा कि जिम्मेदारी चीन की नहीं है. आगे आरोप लगाया गया है कि भारतीय सेना ने लाइन ऑफ एक्चुएल कंट्रोल को क्रॉस किया जिसके बाद चीनी सेना ने हमला किया.

जबकि असल में ऐसा था नहीं. उस रात चीनी सेना तय बातचीत के बाद भी पीछे नहीं हटी थी. फिर जब कर्नल संतोष बाबू वहां चीनी सैनिकों से बात करने पहुंचे तो उन्होंने हमला कर दिया. इस खूनी झड़प में भारत के 20 जवान शहीद हो गए थे. वहीं चीन ने अपने मारे गए सैनिकों की संख्या ही नहीं उजागर की. खबरें थीं कि उसे 40 के करीब जवान शहीद और घायल हुए थे.

दावा किया, पूरी गलवान घाटी चीन की

चीनी राजदूत के लेख में आगे भारत पर आरोप लगाए गए हैं कि भारत ने बॉर्डर सबंधित समझौतों का उल्लंघन किया है. सुन ने यह भी कहा कि पूरी गलवान घाटी चीन की तरफ है, जबकि ऐसा है नहीं.

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

देखिये परवाह देश की सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 10 बजे

Related Posts