CAB 2019 : रूपा गांगुली ने कहा ‘बुर्के में न भागती तो खान टाइगर की बेगम बन जाती’

नागरिकता संशोधन विधेयक पर बहस के बीच बीजेपी से राज्यसभा सांसद रूपा गांगुली ने ट्विटर पर अपने साथ हुई एक घटना शेयर की.

नागरिकता संशोधन विधेयक (Citizenship amendment bill) लोकसभा के बाद राज्यसभा में भी पास हो गया है. इस पर चल रही बहस के बीच बीजेपी सांसद रूपा गांगुली (Roopa Ganguly) ने अपने जीवन से जुड़ी एक घटना बयान की है. उन्होंने बताया कि एक बार किडनैपिंग से बचने के लिए उन्हें व उनकी मां को बुर्के में छिपकर भागना पड़ा था.

राज्यसभा सांसद रूपा गांगुली ने ट्विटर पर अमित शाह की स्पीच का वीडियो शेयर करते हुए लिखा है ‘काश मैं कह पाती. मैंने खुद क्या झेला है. मैं तो खान टाइगर की बेगम बन जाती जो मुझे किडनैप करने आए थे. अगर मैं और मेरी मां बुर्के में भाग नहीं पाती दिनाजपुर से. मैं सातवीं क्लास में पढ़ती थी. अमित शाह (Amit Shah) आपको क्या बताऊं, आज आपको और नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) को कितने लोगों का आशीर्वाद मिला है.’

रूपा गांगुली ने अगले ट्वीट में लिखा ‘हम कहां जाएंगे, अगर भारत हमें जगह न दे. कोई क्यों नहीं सोचेगा? हम कितनी बार बेघर होंगे ? मेरे पिता को उनके देश में, कभी नारायणगंज, कभी ढाका, कभी दिनाजपुर में. हम कितनी बार अपने घरों को बदलेंगे? हमें कितनी बार शरणार्थी का जीवन जीना पड़ेगा? नागरिकता संशोधन विधेयक 2019 का धन्यवाद.’

विपक्ष के नेताओं का रिएक्शन देखकर रूपा गांगुली ने लिखा ‘मुझे यह देखकर आश्चर्य हो रहा है कि इस मुद्दे पर विपक्ष हंस रहा है. हर टिप्पणी का मजाक उड़ा रहा है. यहां तक कि वरिष्ठ महिला नेता भी. मैं उनके हाव भाव देख रही हूं. बेहद दुखद है, बेहद निराशाजनक.’

ये भी पढ़ें:

नागरिकता बिल के पास होने से शरणार्थियों को क्या फायदे होंगे, अमित शाह ने खुद बताया

Related Posts