उन्नाव केस पर पुलिस से सवाल पूछने वाली 11वीं की छात्रा के मां-बाप को सता रहा डर

छात्रा के माता-पिता ने डर के मारे अपनी बेटी को स्कूल भेजना बंद कर दिया है. उन्हें बेटी की सुरक्षा की चिंता है.

बाराबांकी: हाल ही में पुलिस सिक्योरिटी वीक के दौरान महिला सुरक्षा पर प्रशिक्षण देने आई पुलिस से सवाल पूछने वाली 11 वीं की छात्रा का वीडियो इंटरनेट पर खूब वायरल हो रहा है. लेकिन उन्नाव केस पर पुलिस से सवाल करने वाली इस लड़की के माता-पिता अब अपनी बेटी की बेबाक बयानबाजी से डरे हुए हैं.

छात्रा के माता-पिता ने डर के मारे अपनी बेटी को स्कूल भेजना बंद कर दिया है. उन्हें बेटी की सुरक्षा की चिंता है. उसके पैरेंट्स ने तय किया है कि सोमवार को स्कूल प्रिंसिपल से बात करने के बाद ही वो ये तय करेंगे कि मुनिबा को दोबारा कबसे स्कूल भेजा जाएगा.

लड़की के पिता के मुताबिक, ‘मुनिबा अभी छोटी और भोली है. उसने जो कुछ भी न्यूज पेपर में पढ़ा और टीवी पर देखा वही सब कह दिया. उसने अच्छा बोला और स्कूल के बच्चों ने उसका उत्साह बढ़ाया.’

बता दें कि दो दिन पहले बाराबांकी के आनंद भवन स्कूल की 11वीं की छात्रा मुनिबा किदवई ने यूपी पुलिस से ऐसा सवाल पूछा कि पुलिस जवाब देने में नाकाबिल रही.

लड़की ने कहा, आप कहते हैं कि हमें अपनी आवाज उठानी चाहिए और प्रोटेस्ट करना चाहिए. हमें अच्छी तरह से मालूम है कि एक बीजेपी लीडर ने नाबालिग लड़की का रेप किया है. इसके बाद वो उन्नाव केस से संबंधित हालिया एक्सीडेंट की घटना का जिक्र करने लगी.

हर किसी को पता है कि ये कोई एक्सीडेंट की घटना नहीं है. ट्रक की नंबर प्लेट को काले रंग से छुपाया गया था. सामने वाला अगर साधारण व्यक्ति होतो विरोध किया जा सकता है लेकिन अगर वो एक नेता है या पावरफुल व्यक्ति हो तब क्या करना चाहिए? हमें पता है कि इस विरोध पर किसी तरह का एक्शन नहीं लिया जाएगा और एक्शन लिया भी गया तो किसी काम का नहीं होगा. जैसे कि अभी वो लड़की अस्पताल में बहुत ही गंभीर हालत में है.

गौरतलब है कि सड़क हादसे में बुरी तरह घायल हुई उन्नाव की दुष्कर्म पीड़िता की हालत लगातार नाजुक बनी हुई है. किंग जॉर्ज मेडिकल कॉलेज(केजीएमसी) द्वारा मंगलवार शाम जारी बुलेटिन में कहा गया है कि पीड़िता को गंभीर चोटें आई हैं और उसकी स्थिति नाजुक है. वह अभी भी वेंटीलेटर पर है. पीड़िता का ब्लड प्रेशर गिर रहा है. दुर्घटना की वजह से फेफड़ों में भी चोटें आई हैं. साथ ही दाहिने कॉलर की हड्डी भी टूटी है.

ये भी पढ़ें- अपने बॉर्डर पर दीवार बनवाएं ट्रंप, हमने कश्मीर में भेज दिया है धोनी!