महाराष्‍ट्र का फैसला दिल्ली से! अमित शाह, सोनिया गांधी और गवर्नर से मिलेंगे नेता

महाराष्‍ट्र की 288 विधानसभा सीटों में से 105 पर जीत दर्ज करके सबसे बड़ी पार्टी बनकर आई बीजेपी की रणनीति आगे क्‍या होगी, इसे लेकर सोमवार को होने वाली बैठक में अहम फैसला हो सकता है.

महाराष्‍ट्र विधानसभा चुनाव 2019 में बीजेपी-शिवसेना को जनता ने स्‍पष्‍ट जनादेश दिया, लेकिन सीएम पद को लेकर दोनों दलों के बीच चल रहा टकराव अभी तक नहीं थमा है. सियासी अनिश्चितता के इस माहौल के बीच महाराष्‍ट्र के सीएम देवेंद्र फडणवीस सोमवार को दिल्‍ली में बीजेपी अध्‍यक्ष अमित शाह के साथ मुलाकात करेंगे.

महाराष्‍ट्र की 288 विधानसभा सीटों में से 105 पर जीत दर्ज करके सबसे बड़ी पार्टी बनकर आई बीजेपी की रणनीति आगे क्‍या होगी, इसे लेकर सोमवार को होने वाली बैठक में अहम फैसला हो सकता है.

हालांकि आधिकारिक तौर पर तो बताया जा रहा है कि मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस सूबे में बेमौसम बारिश से उपजे हालात से केंद्र सरकार को अवगत कराने और केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह से राहत देने की मांग करने के लिए दिल्ली का दौरा कर रहे हैं.

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात

प्रदेश में शिवसेना और एनसीपी मिलकर सरकार बना सकते हैं. इस मामले पर चर्चा करने के लिए एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार सोमवार को कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से दिल्ली में मुलाकात करेंगे. शरद पवार और सोनिया गांधी की मुलाकात से राजनीतिक पारा बढ़ने की उम्मीद है.

अभी तक शरद पवार की पार्टी एनसीपी विपक्ष में बैठने की बात कर रही थी लेकिन अब पार्टी के सुर बदलने लगे हैं.एनसीपी नेता अजीत पवार ने भी शिवसेना से गठबंधन की तरफ इशारा किया था.अजीत पवार ने स्वीकार किया कि शिवसेना से बातचीत के लिए उन्हें फोन आया था.

राज्यपाल से मुलाकात करेगी शिवसेना

वहीं, सोमवार को शिवसेना महाराष्ट्र के राज्यपाल से मुलाकात करेगी. बताया जा रहा है कि इस दौरान शिवेसना राज्यपाल से सबसे बड़ी पार्टी को सरकार बनाने के लिए न्योता देने की अपील करेगी.

यानी बीजेपी को सरकार बनाने के लिए कहे. साफ है, शिवसेना अब खींचतान को और लंबा खींचने के मूड में नहीं हैं और चाहती है कि बीजेपी आलाकमान अपनी चुप्पी तोड़े और बातें खुलकर व जल्दी साफ हों.

शिवसेना के तीखे बयान

महाराष्‍ट्र में सरकार बनाने को लेकर चल रहे गतिरोध पर शिवसेना बेहद आक्रामक रवैया अपना रही है, पार्टी के नेता संजय राउत लगातार अपने बयानों से बीजेपी पर निशाना साध रहे है. जबकि बीजेपी नेता अब भी बातचीत के आधार पर मामला सुलझाने की बात कर रहे हैं.

बता दें कि हाल ही में महाराष्ट्र कांग्रेस के शीर्ष नेता दिल्ली आए थे और सूबे में राजनीतिक को लेकर सोनिया गांधी से मुलाकात की थी. इसके अलावा शिवसेना के नेता संजय राउत ने शरद पवार से मुलाकात कर चुके हैं.

सोमवार को देखना दिलचस्प होगा कि सियासी सूबे के क्या समीकरण बनेंगे.

ये भी पढ़ें-

दिल्‍ली में अमित शाह-फडणवीस की मुलाकात से निकलेगा महाराष्‍ट्र में सरकार बनाने का फॉर्मूला?

शिवसेना को मिला 170 से ज्यादा विधायकों का समर्थन, 175 पार भी जा सकता है आंकड़ा: संजय राउत

महाराष्ट्र सियासत में हो सकता है बड़ा उलटफेर, शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस मिलकर बना सकती हैं सरकार

Related Posts