PM नरेंद्र मोदी से आज मिलेंगी ममता बनर्जी, इन मसलों पर होगी चर्चा

ममता सरकार ने केंद्र सरकार को पश्चिम बंगाल का नाम बांग्ला करने का प्रस्ताव भेजा था जिसे खारिज कर दिया गया था.

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की बुधवार को नई दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात होने वाली है. ममता ने इस मुलाकात को ‘शिष्टाचार भेंट’ बताया है. उन्होंने कहा कि वह इस दौरान राज्य से जुड़े कई मुद्दों को उनके सामने उठाएंगी, जिसमें राज्य को मिलने वाला कोष का मुद्दा अहम है.

सीएम ममता ने मंगलवार को दिल्ली के लिए रवाना होने से पहले हवाईअड्डे पर संवाददाताओं से बातचीत की. इस दौरान उन्होंने कहा कि वह राज्य के नाम में परिवर्तन, सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के विलय जैसे मुद्दों को उठाएंगी. यह यात्रा ‘नियमित कामकाज’ का हिस्सा है.

‘नियमीत कामकाज का हिस्सा’
ममता बनर्जी ने कहा, “मैं अमूमन दिल्ली नहीं जाती हूं. मैं कहीं भी इसलिए नहीं जाती हूं, क्योंकि यहां पर मेरे पर कुछ जिम्मेदारियां हैं. हमें कुछ प्रशासनिक कारणों से नई दिल्ली जाना पड़ रहा है, क्योंकि यह राजधानी है और वहीं पर संसद है, राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री वहीं रहते हैं. इसलिए हमें वहां जाने की जरूरत है. यह नियमित काम का हिस्सा है.”

रिपोर्ट्स के मुताबिक, सीएम ममता और पीएम मोदी की मुलाकात बुधवार शाम साढ़े चार बजे होने वाली है. इस दौरान पश्चिम बंगाल के विकास, वहां की समस्याओं पर बात होगी. साथ ही पश्चिम बंगाल राज्य का नाम बदलने के मुद्दे पर भी बात हो सकती है, जो काफी लंबे समय से अटका पड़ा है.

गौरतलब है कि ममता सरकार ने केंद्र सरकार को पश्चिम बंगाल का नाम बांग्ला करने का प्रस्ताव भेजा था जिसे खारिज कर दिया गया था. केंद्र का कहना था कि इस कदम के लिए संविधान संशोधन की आवश्यकता होगी.

“राज्य का नाम ‘बांग्ला’ करें”
इसके बाद सीएम ममता ने जुलाई में प्रधानमंत्री मोदी को पत्र लिखा था. पत्र में कहा गया था कि ‘मैं आपसे से फिर से अनुरोध करती हूं कि राज्य का नाम अंग्रेजी, हिन्दी और बंगाली में ‘बांग्ला’ करने के पश्चिम बंगाल के लोगों की इच्छाओं को स्वीकार कर लें. यही बात पश्चिम बंगाल विधानसभा के प्रस्ताव और पश्चिम बंगाल मंत्रिमंडल के प्रस्ताव में भी उल्लेखित है.’

मालूम हो कि ममता बनर्जी लगातार मोदी सरकार की मुखर विरोधी रही हैं. ममता ने कई मुद्दों पर खुलकर केंद्र सरकार का विरोध किया है. फिर चाहे कोलकाता के पुलिस कमिश्नर रहे राजीव कुमार का मामला हो या फिर सर्वदलीय बैठक का मसला. ऐसे में ममता और मोदी की मुलाकात बेहद अहम मानी जा रही है.

ये भी पढ़ें-

नायक नहीं खलनायक हूं मैं… गाने पर जमकर नाचे ‘बल्लामार’ विधायक आकाश विजयवर्गीय, देखें Video

केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने खरीदा 420 रुपये kg सेब, फल पर थी मोम की परत, लिया एक्शन

भारतीय सेना ने पाकिस्तानी ‘BAT’ कमांडो-आतंकियों की घुसपैठ को किया नाकाम, देखिए VIDEO