सीएम योगी ने बताया क्यों की गई कमलेश तिवारी की हत्या? आज शाम तक करेंगे पीड़ित परिवार से मुलाकात

सीएम आदित्यनाथ ने बताया कि पुलिस की पकड़ से बाहर आरोपियों को पकड़ने के लिए दबिश दी जा रही है और विशेष जांच टीम को मामले की जांच सौंपी गई है.

लखनऊ: हिंदू समाज पार्टी के अध्यक्ष कमलेश तिवारी की हत्या मामले में यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने बयान दिया है. योगी आदित्यनाथ ने दावा किया है कि भय और दहशत का माहौल बनाने के लिए ऐसा किया गया. ऐसे तत्वों के मंसूबों को कुचल कर रख दिया जाएगा.

सीएम आदित्यनाथ ने बताया कि पुलिस की पकड़ से बाहर आरोपियों को पकड़ने के लिए दबिश दी जा रही है और विशेष जांच टीम को मामले की जांच सौंपी गई है. उन्होंने जानकारी दी है कि शनिवार शाम को वह पूरे मामले की समीक्षा करेंगे. घटना के बारे में बात करते हुए सीएम ने दावा किया- ‘भय और दहशत पैदा करने वाले जो भी तत्व होंगे, सख्ती के साथ उनके मंसूबों को कुचल दिया जाएगा. जो भी इस घटना में सम्मिलित होगा, किसी को बख्शा नहीं जाएगा.’

सीएम ने कहा है कि कमलेश के हत्यारे उनके घर उनसे मिलने आए और उनके साथ चाय-नाश्ता भी किया. उनके बेटे और निजी सहायक को बाजार भेजकर कमलेश की हत्या कर दी. सीएम ने बताया कि मामले में तीन लोगों को गुजरात से और दो लोगों को उत्तर प्रदेश में हिरासत में लिया गया है. बाकी लोगों के खिलाफ कार्रवाई करने की तैयारी चल रही है.

योगी आदित्यनाथ ने यह भी कहा है कि वह कमलेश के परिवार से मिलने के लिए तैयार हैं. कमलेश तिवारी की हत्या के बाद उनके परिजन अंतिम संस्कार नहीं कर रहे थे. उनकी शर्त थी कि पहले सीएम योगी आदित्यनाथ उनसे मुलाकात करें तभी वे कमलेश तिवारी का अंतिम संस्कार करेंगे. प्रशासन और कमलेश तिवारी के परिजन के बीच लिखित समझौते के बाद यह तय हुआ है कि शनिवार शाम को सीएम योगी कमलेश के परिजन से मुलाकात करेंगे.