सफाई कर्मचारियों के लिए सरकारी भर्ती निकली, इंटरव्‍यू देने पहुंच गए 7 हजार इंजीनियर, ग्रैजुएट्स

कई आवेदक तो ऐसे थे जो प्राइवेट कंपनीज में काम कर रहे हैं मगर सरकारी नौकरी चाहते थे. साथ ही इसमें स्‍टार्टिंग सैलरी 15,700 रुपये है.

Coimbatore Municipal Corporation Recruitment 2019 : बेरोजगारी का आलम क्‍या है, यह तमिलनाडु में फोर्थ क्‍लास पदों के लिए आए आवेदनों से पता चलता है. कोयंबटूर म्‍यूनिसिपल कॉर्पोरेशन ने 549 सैनिटरी वर्कर्स की वैकेंसी निकाली थी. इसके लिए करीब 7,000 इंजीनियर्स, ग्रैजुएट्स और डिप्‍लोमा होल्‍डर्स ने अप्‍लाई किया है.

तीन दिन तक इंटरव्‍यू और सर्टिफिकेट वेरिफिकेशन में करीब 7000 आवेदक आए. पता चला कि इनमें से 70 फीसदी SSLC (10वीं) पास हैं, जो कि न्‍यूनतम योग्‍यता है. अधिकतर इंजीनियर, पोस्‍ट-ग्रैजुएट्स, ग्रैजुएट्स और डिप्‍लोमा होल्‍डर्स थे. कई आवेदक तो ऐसे थे जो प्राइवेट कंपनीज में काम कर रहे थे मगर सरकारी नौकरी चाहते थे. साथ ही इसमें स्‍टार्टिंग सैलरी 15,700 रुपये है.

कॉन्‍ट्रैक्‍ट पर पिछले 10 साल से सैनिटरी वर्कर का काम करने वालों ने भी परमानेंट नौकरी के लिए अप्‍लाई किया है. बहुत से ग्रैजुएट ऐसे रहे जिन्‍हें योग्‍यता के हिसाब से काम नहीं मिला और निजी फर्मों में 6,000-7,000 रुपये की सैलरी पर घिस रहे हैं. 12 घंटे की ड्यूटी होती है और कोई जॉब सिक्‍योरिटी नहीं.

सैनिटरी वर्कर्स की नौकरी में 20 हजार रुपये सैलरी मिलती है. तीन घंटे सुबह काम होता है और तीन घंटे शाम को. यानी बीच के खाली वक्‍त में कुछ और काम भी किया जा सकता है.

कोयंबटूर म्‍यूनिसिपल कॉर्पोरेशन में फिलहाल 2,000 परमानेंट और 500 कॉन्‍ट्रैक्‍ट सैनिटरी वर्कर्स हैं.

ये भी पढ़ें

भारतीय इंजीनियर्स के लिए खुशखबरी! 1200 नौकरियां लेकर आ रही Samsung

12वीं पास के लिए बंपर भर्ती, 70 हजार तक है सैलरी