कश्‍मीर पर कांग्रेस में दरार, राहुल बोले- मैं अध्‍यक्ष नहीं, कैसे बुलाऊं CWC की मीटिंग

इस इस्तीफे के बाद कांग्रेस के सदस्यों की संख्या घटकर 46 रह गई है, जबकि सपा के 10 सदस्य रह गए हैं.
कांग्रेस, कश्‍मीर पर कांग्रेस में दरार, राहुल बोले- मैं अध्‍यक्ष नहीं, कैसे बुलाऊं CWC की मीटिंग

नई दिल्ली. अनुच्छेद 370 के उन्मूलन और जम्मू-कश्मीर को दो भागों में विभाजित करने के केंद्र सरकार के फैसले का कांग्रेस ने जमकर विरोध किया है. हालांकि निवर्तमान कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल इस पर स्‍पष्‍ट रूप से कुछ नहीं बोले. राहुल गांधी से जब पूछा गया कि क्‍या वह कांग्रेस कार्यसमिति की आपातकालीन बैठक बुलाकर इस पर चर्चा करेंगे तो उन्‍होंने NDTV से कहा कि ‘वह मीटिंग नहीं बुला सकते क्‍योंकि अब वह कांग्रेस अध्‍यक्ष नहीं हैं.’

सरकार के फैसले का विरोध करने का खामियाजा कांग्रेस को एक सांसद गंवाकर चुकाना पड़ा है. दरअसल कांग्रेस के राज्यसभा सांसद व चीफ व्हिप भुबनेश्वर कलिता ने राज्यसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है. वह कश्मीर के मुद्दे पर पार्टी के रुख से नाराज थे. कलिता के अलावा भी कांग्रेस के कई नेताओं ने सरकार के फैसले का स्वागत किया है.

कांग्रेस के पूर्व सांसद दीपेंद्र सिंह हुड्डा और मुंबई कांग्रेस के अध्यक्ष मिलिंद देवड़ा ने मोदी सरकार के इस फैसले का समर्थन किया है. इन दो युवा नेताओं के अलावा जनार्दन द्विवेदी ने भी अनुच्छेद 370 हटाए जाने का स्वागत किया है.

भुबनेश्वर कलिता ने कहा कि, पार्टी विनाश के रास्ते पर जा रही है. भुबनेश्वर कलिता को अनुच्छेद 370 के उन्मूलन और जम्मू-कश्मीर को दो भागों में बांटने के मुद्दे पर अपनी पार्टी के सदस्यों के लिए व्हिप जारी करना था और उन्होंने इसी समय में इस्तीफा दे दिया.

कलिता ने एक बयान में कहा, “पार्टी ने मुझसे व्हिप जारी करने के लिए कहा था, लेकिन यह देश के मिजाज के खिलाफ है. पार्टी विनाश के रास्ते पर जा रही है और मैं इसमें उसका भागीदार नहीं बन सकता हूं.”

कलिता असम से कांग्रेस के राज्यसभा सांसद थे. उनका कार्यकाल अगले साल 9 अप्रैल को तक था. इससे पहले कांग्रेस सदस्य संजय सिंह ने राज्यसभा से इस्तीफा देते हुए बीजेपी जॉइन कर ली थी. बीजेपी जॉइन करने के सवाल पर कलिता ने कोई जवाब नहीं दिया है.

ये भी पढ़ें: जम्मू-कश्मीर हाई कोर्ट पर लहराया गया तिरंगा, देखें VIDEO

ये भी पढ़ें: जम्मू-कश्मीर के विशेषाधिकार खत्म होने के बाद PM मोदी की ये तस्वीर क्यों हो रही वायरल

Related Posts