सोनिया गांधी के साथ तिहाड़ में मीटिंग के कुछ घंटे बाद ही जेल से बाहर आए डीके शिवकुमार

दिल्ली हाईकोर्ट ने कर्नाटक कांग्रेस के नेता डीके शिवकुमार को 25 लाख रुपए के निजी मुचलके पर जमानत दी.
डीके शिवकुमार रिहा, सोनिया गांधी के साथ तिहाड़ में मीटिंग के कुछ घंटे बाद ही जेल से बाहर आए डीके शिवकुमार

नई दिल्‍ली: कर्नाटक कांग्रेस के वरिष्ठ नेता डीके शिवकुमार जमानत मिलने के बाद बुधवार को तिहाड़ जेल से बाहर आ गए. जेल से निकलने के बाद डीके शिवकुमार ने समर्थकों और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को धन्यवाद दिया.

उन्‍होंने कहा कि जो भी मेरे साथ खड़े हुए उन सभी को धन्यवाद. डीके शिवकुमार को हाईकोर्ट ने जमानत दी है. दिल्ली हाईकोर्ट ने कर्नाटक कांग्रेस के नेता डीके शिवकुमार को 25 लाख रुपए के निजी मुचलके पर जमानत दी.

कर्नाटक में कांग्रेस के संकटमोचक माने जाने वाले डीके शिवकुमार पर मनी लॉन्ड्रिंग के मामने में आरोप लगे हैं. वह न्यायिक हिरासत में थे, दिल्‍ली हाईकोर्ट के फैसले से पहले ट्रायल कोर्ट ने उनकी जमानत याचिका खारिज कर दरी थी.

सोनिया गांधी ने बुधवार को ही डीके शिवकुमार से तिहाड़ जेल में मुलाकात की. मनी लॉन्ड्रिंग के मामले में शिवकुमार को ईडी ने 03 सितंबर 2019 को गिरफ्तार किया था. कांग्रेस का आरोप है कि केंद्रीय एजेंसियों ने राजनीतिक प्रतिशोध के कारण शिवकुमार को निशाना बनाया है. दूसरी ओर जांच एजेंसियां इस कार्रवाई के पीछे पुख्‍ता सबूत होने का दावा कर रही हैं.

क्‍या है पूरा मामला

साल 2017 में आयकर विभाग ने शिवकुमार के कई ठिकानों पर छापेमारी की थी. इस दौरान दिल्ली में उनके ठिकाने से करीब 8 करोड़ कैश मिला था. इनकम टैक्‍स डिपार्टमेंट ने इस मामले में कोर्ट में चार्जशीट दायर की थी, जिसके बाद विभाग के आरोप-पत्र को आधार बनाकर ईडी ने डीके शिवकुमार पर मनी लॉन्डिंग केस में मुकदमा दर्ज किया. इसके बाद डीके शिवकुमार ने कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था और उस वक्‍त उन्‍हें कोर्ट से फौरी राहत मिली. इसके बाद ईडी ने उन्हें बेंगलूरु से दिल्ली पूछताछ के लिए बुलाया और बाद में उन्‍हें गिरफ्तार कर लिया गया.

Related Posts