कांग्रेस ने स्टिंग जारी कर किया दावा, ‘अभी भी चल रहा है पुराने नोट बदलने का धंधा’

कपिल सिब्बल ने पहले तो अहमद पटेल और कमलनाथ के सहयोगियों पर जांच एजेंसियों की कार्रवाई को राजनीतिक से प्रेरित बताया, फिर एक स्टिंग जारी कर मोदी सरकार को घेरने की कोशिश की.

कांग्रेस पार्टी ने नोटबंदी को सबसे बड़ा स्कैम बताते हुए एक वीडियो जारी किया है. कपिल सिब्बल के मुताबिक इसमें 15 प्रतिशत कमीशन लेकर पुराने नोट बदलने का खुलासा हुआ है. उन्होंने नरेंद्र मोदी सरकार को इसकी जांच कराने की चुनौती दी है.

सिब्बल ने कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल और कमलनाथ के सहयोगियों पर हुई कार्रवाई की ओर इशारा किया. उनका कहना था कि राजनीतिक विरोधियों के खिलाफ मोदी सरकार एजेंसियों का इस्तेमाल कर रही है लेकिन नोटबंदी के बाद भी बीजेपी नेताओं की मदद से नोट बदलने के स्कैम पर कोई कुछ नहीं कर रहा. उन्होंने जो वीडियो दिखाया उसमें से एक सात जुलाई 2018 का है. इस वीडियो में राहुल रत्नेकर नाम का शख्स  कहता है कि बीजेपी नेताओं के कहने पर भी करेंसी बदली जाती है.

सिब्बल ने कहा, “हिंदुस्तान के इतिहास में अगर कोई सबसे बड़ा स्कैम हुआ है तो वो नोटबंदी का है. मोदी ने अपने कार्यकाल की शुरुआत ही जनता को मूर्ख बनाकर की और अब धमकाकर अपना कार्यकाल खत्म कर रहे हैं. ये बहुत बड़े दुख की बात है कि हमारे लोकतंत्र में जो एजेंसियां हैं वो विपक्षी दलों की जांच करेंगी लेकिन केंद्रीय मंत्रियों की कोई जांच नहीं होगी.”

कांग्रेस नेता ने कहा, “ऐसा लगता है कि सारी एजेंसियां , चाहे वो आईटी हो, सीबीआई हो या एनआईए हो, सब इनके कब्जे में हैं. जब एजेंसी और सरकार एक मंच पर आ जाएं तो लोकतंत्र कभी बहाल नहीं रह सकता. लोकतंत्र बचाने का काम अब जनता का है.”

सिब्बल ने दावा किया कि ट्रेजरी और बैंक के लोग मिलकर 15 परसेंट कमीशन पर कमा रहे हैं, इनका कुछ नहीं होगा. उन्होंने पिछले खुलासे का जिक्र किया. वो कहते हैं, “पिछली बार हमने गुजरात की बात कही थी. कैसे एक आदमी बीजेपी मुख्यालय में जाता है और फ्रेश नोट लेकर आता है. अब तो 26 ठिकानों की बात हो रही है.”

सिब्बल ने ताजा वीडियो का हवाला देते हुए पूछा कि क्या ईडी इन लोगों को गिरफ्तार करेगी ? विपक्षी दलों के खिलाफ डायरी का इस्तेमाल किया जाता है पर यही बात बिड़ला डायरी और येदियुरप्पा पर लागू नहीं होती है.

वीडियो के मुख्य अंश

वीडियो में राहुल रत्नेकर अपनी पत्नी के साथ मुंबई के होटल ट्राइडेंट में बैठा हुआ दिखाया जाता है. सिब्बल के मुताबिक ये वीडियो 12 जुलाई, 2018 का है. इसमें एक अंडरकवर रिपोर्टर करण को राहुल रत्नेकर के साथ नोट बदलने की डील करते हुए दिखाया गया है.

राहुल रत्नेकर – नोट बदलने के लिए कमीशन बढ़ गया है. 15 परसेंट तक लिया जा रहा है. 20 हजार करोड़ रूपए का ट्रांजैक्शन कर चुका हूं. रिलायंस जियो डेटा बेस का इस्तेमाल भी होता है, नई करेंसी छह महीने पहले ही छप चुकी थी. ये नोट पुराने नोटों से बदलने शुरू हो गए थे.

करण – ऑडिटिंग नहीं होती है..

राहुल – क्या ऑडिटिंग होगी.. .

बात होने के बाद एक दूसरा क्लिप दिखाया जाता है. सिब्बल बताते हैं कि ये स्टारबक्स कैफे का है. वहां इंडस इंड बैंक का मैनेजर संज शाने भी है. वो करण से मिलते हैं.

करण320 करोड़ रुपए तुरंत एक्सचेंज कराने हैं.

शाने – हो जाएगा.

सिब्बल एक तीसरा वीडियो क्लिप दिखाते हैं. उनके मुताबिक ये जगह महाराष्ट्रा इंडस्ट्रियल कॉरपोरेशन के गोदाम की है.

वीडियो में पुराने नोटों का बंडल दिखाया जाता है. थोड़ी देर बाद एक वैन से एल्युमीनियम के बक्से में 2000 के नए नोट लाए जाते हैं. शाने और रत्नेकर कहते हैं कि ये नोट सीधे आरबीआई बेलापुर से आए हैं. पुराने नोट के बॉक्स चले जाते हैं.

रत्नेकर कहता हैक्रिसमस तक 100 का काम करेंगे.. पहले भी कई नेताओं से कैश लिया और आरटीजीएस कर दिया.

(Disclaimer – TV9 भारतवर्ष इस स्टिंग की स्वतंत्र पुष्टि नहीं करता है)