मणि शंकर अय्यर ने पत्रकार को दी गाली, मारने के लिए उठा दिया हाथ, देखें वीडियो

अय्यर के इस आर्टिकल को लेकर कुछ पत्रकार उनकी प्रतिक्रिया लेने के लिए उनसे मिलने पंजाब सरकार के गेस्ट हाउस पहुंचे थे. राइजिंग कश्मीर में लिखे आर्टिकल को लेकर एक पत्रकार ने अय्यर से सवाल किया तो वे भड़क गए.

नई दिल्ली: कांग्रेस के दिग्गज नेता मणि शंकर अय्यर वैसे तो अक्सर अपनी प्रतिद्वंद्वी पार्टी के खिलाफ अपने बयानों को लेकर विवादों में घिरे रहते हैं, लेकिन इस बार उन्होंने कुछ ऐसा कर दिया, जिससे वे फिर से सुर्खियों में हैं.

2017 में मणि शंकर अय्यर ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए नीच आदमी जैसे शब्द का इस्तेमाल किया था. अब इसके दो साल बाद अय्यर ने अपने इस बयान को फिर से दोहराया, जिसके बाद उनकी खूब आलोचना हुई.

अय्यर के इस आर्टिकल को लेकर कुछ पत्रकार उनकी प्रतिक्रिया लेने के लिए उनसे मिलने पंजाब सरकार के गेस्ट हाउस पहुंचे थे. राइजिंग कश्मीर में लिखे आर्टिकल को लेकर एक पत्रकार ने अय्यर से सवाल किया तो वे भड़क गए. इतना ही नहीं उन्हें पत्रकार के सवाल पर इतना गुस्सा आया कि उन्होंने अपना आपा खोते हुए पत्रकार पर हाथ उठा दिया.

क्या है पूरा मामला

पत्रकार ने आर्टिकल को लेकर सवाल किया, जिसके बाद अय्यर ने गुस्से में उससे कहा, “क्या आप नहीं जानते भारतवर्ष में एक व्यक्ति है, नरेंद्र मोदी. क्या आपने उनके तीखे हमले सुने हैं. उनसे जाकर ये सवाल पूछिए. नहीं, वो आपसे बात नहीं करते, क्योंकि वे डरपोक हैं. वे मीडिया से बात ही नहीं करते.”

इसके बाद अय्यर ने अपने दोनों हाथ उठाए और जैसे पीएम मोदी अपने भाषण में हाथ उठाकर बातें करते हैं, अय्यर उनकी तरह एक्टिंग करने लगे. इसके आगे पत्रकार पर झल्लाते हुए मणि शंकर अय्यर बोले, “अब आप कोई सवाल नहीं कर सकते.”

ये बोलकर अय्यर वहां से निकल ही रहे थे कि पत्रकार ने उनसे 23 मई को लोकसभा चुनाव के नतीजों को लेकर सवाल पूछ लिया. इसपर मणिशंकर और ज्यादा गुस्से से भर गए और पीछे मुड़कर पत्रकार को घूंसा दिखाते हुए धमकाने लगे. इस बीच पत्रकार ने उनसे मांफी भी मांगी, लेकिन अय्यर ने उसके माइक्रोफोन को दूर करने के लिए उसपर जोर से हाथ मार दिया.

पत्रकार ने कहा कि सर आप नाराज मत हो, तो इसपर कांग्रेस नेता बोले कि मैं नाराज हो रहा हूं क्योंकि तुमने गलत सवाल किया. ऐसे सवाल करते हो. ये कहने के बाद अय्यर पत्रकार को गाली देकर वहां से निकल लिए.

अय्यर के किस बयान पर छिड़ा विवाद

लंबे समय तक चुप रहने के बाद मणिशंकर अय्यर ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लेकर 2017 में दिए ‘नीच इंसान’ वाली टिप्‍पणी को दोहराया है. एक लेख में अय्यर ने पूछा है कि क्या मैं सही नहीं था?”

अय्यर ने द राइजिंग कश्‍मीर के लिए लेख में कहा, “क्या प्रधानमंत्री मोदी जीतेंगे? 23 मई को देश की जनता उन्हें सत्ता से बाहर कर देगी. क्या आपको याद है कि मैंने 7 दिसंबर 2017 को क्या कहा था, क्या मेरी भविष्यवाणी सही नहीं थी?” 

अय्यर ने इसके लिए चुनावी रैलियों, राजीव गांधी पर उनकी टिप्‍पणियों और बालाकोट एयरस्‍ट्राइक्‍स पर मोदी के बयानों को वजह बताया है.

अपने लेख में मणिशंकर अय्यर ने पीएम मोदी की रैलियों और इंटरव्‍यू में कही गई बातों का जिक्र किया है. उन्‍होंने कहा कि मोदी ‘घटिया चुनाव प्रचार अभियान’ चला रहे हैं. कांग्रेस नेता ने लिखा, “मोदी को चेतावनी दी जानी चाहिए कि वह एक घटिया चुनाव प्रचार अभियान में सेना और सीआरपीएफ जवानों के बलिदान का फायदा उठाकर राष्‍ट्र-विरोधी गतिविधियां करने के दोषी हैं.”

2017 में पार्टी से हुए सस्पेंड

गुजरात विधानसभा चुनाव के दौरान प्रचार करते हुए कांग्रेस नेता ने पीएम मोदी को ‘नीच इंसान’ कह दिया था. इस बयान पर खासा बवाल हुआ जिसके बाद कांग्रेस ने टिप्‍पणी से किनारा करते हुए अय्यर को पार्टी से निलंबित कर दिया था. 19 अगस्‍त, 2018 को पार्टी ने अय्यर का निलंबन वापस ले लिया था. हालांकि बाद में मणिशंकर अय्यर ने माफी मांग ली थी मगर अब उन्‍होंने इसी बयान को दोहराया है.