कांग्रेसी विधायक ने इंजीनियर को पुल से बांध कीचड़ से नहलाया, देखिए VIDEO

विधायक नितेश राणे ने कणकवली के पास हाईवे का मुआयना करते हुए एक इंजीनियर के साथ पहले गाली-गलौज की उसके बाद उन पर कीचड़ से भरी बाल्टी उलट दी.


नई दिल्ली: बीजेपी विधायक आकाश विजयवर्गीय के ‘बल्ला कांड’ के बाद अब कांग्रेस के विधायक नितेश राणे भी उसी राह निकल पड़े हैं. हालांकि उन्होंने हिंसा का रास्ता छोड़ एक नया रास्ता चुन लिया. विधायक नितेश राणे ने कणकवली के पास हाईवे का मुआयना करते हुए एक इंजीनियर के साथ पहले गाली-गलौज की उसके बाद उन पर कीचड़ से भरी बाल्टी उलट दी.

विधायक नितेश राणे ने कणकवली के पास हाईवे का मुआयना करते हुए एक इंजीनियर के साथ पहले गाली-गलौज की उसके बाद उन पर कीचड़ से भरी बाल्टी उलट दी. हाईवे पर खड्डे देखें तो उन्होंने इंजीनियर प्रकाश शेडकर को वहां बुलाकर उनके साथ गाली-गलौज की और फिर कीचड़ से भरी बाल्टी का पानी प्रकाश शेडकर पर डलवा दिया.

इसके बाद जिस पुल पर वह खड़े थे उसी पुल से उन्हें बांधने की भी कोशिश की और फिर इस पूरी गुंडागर्दी को उन्होंने अपने फेसबुक पर शेयर किया है नितेश राणे महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री नारायण राणे के बेटे हैं.

आकाश विजयवर्गीय ने का ‘बल्ला कांड’
कुछ दिनों पहले इंदौर में भाजपा के कद्दावर नेता कैलाश विजवर्गीय के विधायक बेटे आकाश विजयवर्गीय ने निगम के एक अधिकारी को बल्ले से पीटा. जिसके बाद उनको जेल भी जाना पड़ा था. इसके बाद आकाश विजयवर्गीय को आदर्श मानते हुए दमोह जिला भाजपा युवा मोर्चा के जिला उपाध्यक्ष विवेक अग्रवाल का एक फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था. इस तस्वीर में विवेक भी क्रिकेट बैट के साथ नगरपालिका कार्यालय में बैठे हुए दिखाई दे रहे है.

बैट लेकर निगर दफ्तर पहुंचा बीजेपी कार्यकर्ता
मध्यप्रदेश में एक और भारतीय जनता पार्टी के नेता ने सरकारी अधिकारी के साथ मारपीट की थी. सतना के नगर पंचायत अध्यक्ष और बीजेपी नेता पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी (सीएमओ) को पीटने का आरोप लगा है. सीएमओ को काफी चोटें आई हैं और उनकी हालत गंभीर बनी हुई है.

विदिशा विधायक हो गईं नाराज
ऐसी ही एक और तस्वीर विदिशा से आई थी. विदिशा की विधायक लीना जैन का वीडियो जमकर वायरल हो रहा है. दरअसल विधायक जी को प्रोटोकॉल नहीं मिलने से वो नाराज हो गईं. भाजपा विधायक लीना जैन ने ग्यारसपुर में कार्य समिति की बैठक में कृषि अधिकारी को खुलेआम धमकी दी. जैन ने कहा कि आप ग्यारसपुर में नौकरी नहीं कर पाओगे.