Exclusive: प्रियंका गांधी की मौजूदगी में UP कांग्रेस समिति ने बनाई संगठन को मज़बूत करने की रणनीति

प्रशिक्षण में बेरोजगारी, किसान समस्या, कानून व्यवस्था, महिला हिंसा, उत्पीड़न, शिक्षा, स्वास्थ्य, बाढ़ जैसे ज्वलंत मुद्दों पर गंभीर चर्चा हुई.

हाल ही में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी पार्टी की एक कार्यशाला में शामिल हुईं. इस मौके पर प्रियंका नेताओं के बजाय, कार्यकर्ताओं के बीच में बैठीं. प्रियंका कल रायबरेली में पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं को संबोधित करेंगी.

इस कार्यशाला में प्रदेश भर में विभिन मुद्दों पर प्रदर्शन की योजना, पदाधिकारियों की ज़िम्मेदारी और जवाबदेही तय की गई. इसके साथ ही गन्ना किसान, बुंदेलखंड में किसानों की आत्महत्या और अकाल, रोज़गार का मुद्दा, महिला सुरक्षा, NCRB की रिपोर्ट पर कानून व्यवस्था पर detailed discussion किया और आंदोलन की रूप रेखा बनाई.

उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी की कार्यशाला में सामाजिक, आर्थिक, ऐतिहासिक मुद्दों और संवाद-संचार पर हुआ प्रशिक्षण

तीन दिवसीय प्रशिक्षण कार्यशाला में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी, पंडित जवाहर लाल नेहरू, बाबासाहेब भीमराव अंबेडकर, मौलाना अबुल कलाम आजाद, सरदार पटेल, सुभाषचंद्र बोस, विनोबा भावे, छत्रपति शाहू जी, ज्योतिबाफुले, सन्त रैदास, कबीर समेत देश के तमाम महापुरुषों के विचारों गहन परिचर्चा हुई. साथ ही साथ प्रशिक्षण में तमाम राजनीतिक दर्शनों पर गंभीर चर्चा परिचर्चा हुई.

उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के पदाधिकारियों ने देश की आर्थिक स्थिति पर गहन चर्चा की. भाजपा के जनविरोधी आर्थिक नीतियों-जीएसटी के गलत क्रियान्वयन, नोटबंदी, कालाधन, आर्थिक मंदी के नुकसान को जनता के बीच बेहतर तरीके से ले जाने का प्रशिक्षण लिया.

प्रशिक्षण में बेरोजगारी, किसान समस्या, कानून व्यवस्था, महिला हिंसा, उत्पीड़न, शिक्षा, स्वास्थ्य, बाढ़ जैसे ज्वलंत मुद्दों पर गंभीर चर्चा हुई.

जनता से संवाद, कुशल नेतृत्व, जनसंचार माध्यमों के उपयोग, सोशल मीडिया की ट्रेनिंग दी गई. कार्यशाला में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के जीवन पर आधारित फ़िल्म भी दिखाई गई.

उत्तर प्रदेश में सांगठनिक ढांचा मजबूत करने और आगामी आंदोलनों पर बनी रणनीति

उत्तर प्रदेश में कांग्रेस पार्टी को मजबूत करने के लिए कार्यशाला में संगठन को मजबूत करने और आगामी आंदोलनों पर रणनीति बनी. कार्यशाला में उपस्थित पदाधिकारियों की जिम्मेदारी और जबाबदेही तय की गई. साथ ही साथ उत्तर प्रदेश में विभिन्न मुद्दों पर आंदोलन करने की रूपरेखा तैयार की गई.

रायबरेली के पूर्व सांसद अशोक सिंह के बेटे मनीष सिंह ने कांग्रेस पार्टी की सदस्यता ग्रहण की

रायबरेली के पूर्व सांसद अशोक सिंह के बेटे और बसपा के पूर्व प्रत्याशी मनीष सिंह ने महासचिव प्रियंका गांधी के समक्ष कांग्रेस पार्टी की सदस्यता ली.