5 घंटे चला प्रियंका राहुल का रोड शो, राहुल बोले- भाजपा-आरएसएस की विचारधारा जनता को तोड़ने और नफरत फैलाने की है

लखनऊ। लोकसभा चुनावों से पहले कांग्रेस पार्टी ने देश के सबसे बड़े प्रदेश की राजधानी लखनऊ  से चुनावी बिगुल फूंक दिया है. कांग्रेस की नजरें यहां की 80 लोकसभा सीटों पर हैं जो कि संसद तक पहुंचने का मार्ग प्रशस्थ करती हैं. इसी क्रम में यूपी की प्रभारी बनाए जाने के बाद प्रियंका आज पहली […]

लखनऊ।

लोकसभा चुनावों से पहले कांग्रेस पार्टी ने देश के सबसे बड़े प्रदेश की राजधानी लखनऊ  से चुनावी बिगुल फूंक दिया है. कांग्रेस की नजरें यहां की 80 लोकसभा सीटों पर हैं जो कि संसद तक पहुंचने का मार्ग प्रशस्थ करती हैं. इसी क्रम में यूपी की प्रभारी बनाए जाने के बाद प्रियंका आज पहली बार लखनऊ दौरे पर आईं. रोड शो के दौरान जगह-जगह उनका स्वागत किया गया. कार्यकर्ताओं में खासा जोश देखने को मिला.

 

राहुल, प्रियंका और सिंधिंया का रोड शो

प्रियंका गांधी और ज्योतिरादित्य सिंधिया कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी एयरपोर्ट से प्रदेश मुख्यालय तक रोड शो किया. एयरपोर्ट से प्रदेश कांग्रेस कार्यालय तक पूरे रास्ते में करीब तीन दर्जन जगहों पर उनका स्वागत हुआ. इसी दौरान राहुल गांधी ने कई जगह रोड शो रोककर भाषण भी दिया और कार्यकर्ताओं में जोश भी भरा. इस दौरान राहुल गांधी ने ‘चौकीदार चोर है’ के कई बार नारे भी लगवाए.

कांग्रेस मुख्यालय में राहुल के भाषण की कुछ बड़ी बातें

1- कांग्रेस पार्टी उत्तर प्रदेश को बदलने के लिये लड़ेगी. अपनी विचारधारा के लिये लड़ेगी और पूरे दम-खम से लड़ेगी.

2- उत्तर प्रदेश में अगर कांग्रेस पार्टी को खड़ा करना है तो जमीनी नेताओं को आगे बढ़ाना पड़ेगा.

3- उत्तर प्रदेश का युवा, किसान, दलित, पिछड़ा, गरीब – सब लोग उत्तर प्रदेश में प्रगति की सरकार चाहते हैं.

4- विधानसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश में कांग्रेस पार्टी की सरकार बननी चाहिए, ये सबकी जिम्मेदारी है.

5- उत्तर प्रदेश से कांग्रेस पार्टी की शुरुआत हुई थी और उत्तर प्रदेश में कांग्रेस पार्टी कमजोर नहीं रह सकती है.

6- एक तरफ भाजपा-आरएसएस की जनता को तोड़ने, नफरत फैलाने की विचारधारा है. तो दूसरी तरफ कांग्रेस पार्टी की प्यार की विचारधारा है.

7- इनका लक्ष्य लोकसभा में जरुर है मगर विधानसभा में कांग्रेस पार्टी की सरकार बनाने का है. उत्तर प्रदेश में हम युवाओं, गरीबों और किसानों की सरकार लायेंगे.

8- इस देश का अगर कोई दिल है तो वो उत्तर प्रदेश है.

9- मैंने प्रियंका और ज्योतिरादित्य जी  को उत्तर प्रदेश का महासचिव बनाया है और कहा है कि उत्तर प्रदेश में सालों से जो अन्याय हो रहा है उसके खिलाफ इनको लड़ना है और यहां न्याय वाली सरकार लानी है.

10- नरेन्द्र मोदी जी के अंदर जो खोखलापन था वो पूरे देश के सामने आ गया है.

11- नरेन्द्र मोदी जी ने कहा था 56 इंच की छाती है. मैं चौकीदार बनना चाहता हूं. 2-3 दिन पहले अखबार में आता है कि नरेन्द्र मोदी ने ‘समानांतर बातचीत’ कर राफेल सौदे को रद्द किया.

आगे का कार्यक्रम

12 फरवरी को प्रियंका गांधी मोहनलालगंज और दोपहर बाद उन्नाव के पार्टी कार्यकतार्ओं से मिलेंगी. दोपहर के भोजन के बाद प्रियंका वाराणसी, गोरखपुर, कौशांबी, फूलपुर, इलाहाबाद, चंदौली, गाजीपुर, धौरहरा, फतेहपुर और लखनऊ के कार्यकतार्ओं के साथ बैठक करेंगी.

13 फरवरी को वह बाराबंकी, कैसरगंज, बहराइच, बांसगांव, देवरिया, डुमरियागंज, कुशीनगर, संत कबीरनगर, महाराजगंज, फैजाबाद, श्रावस्ती, गोण्डा और बस्ती के नेताओं और कार्यकतार्ओं से मिलेंगी.

14 फरवरी को प्रियंका की मुलाकात सीतापुर, सलेमपुर, घोसी, आजमगढ़, लालगंज, मछलीशहर, जौनपुर, रॉबट्र्सगंज, मीरजापुर, भदोही, अंबेडकर नगर, बलिया और मिश्रिख के कार्यकतार्ओं से होगी.