पटना या अमेरिका? कहां जा रहे राहुल गांधी, इस्‍तीफे की घोषणा के बाद खड़ा हुआ नया सस्‍पेंस

राहुल गांधी कहां जा रहे हैं? मीडिया में तो इसे लेकर सस्‍पेंस बना ही हुआ है, लेकिन कांग्रेस में भी कन्‍फ्यूजन कम नहीं है.

नई दिल्‍ली: कांग्रेस अध्‍यक्ष पद से इस्‍तीफे को लेकर लंबे समय से बना हुआ सस्‍पेंस बुधवार को खत्‍म हो गया. संसद में खुद राहुल गांधी ने कहा कि 2019 लोकसभा चुनाव में हार की जिम्‍मेदारी लेते हुए उन्‍होंने पहले ही इस्‍तीफा दे दिया. ये सस्‍पेंस अभी खत्‍म हुआ ही था कि एक नया कन्‍फ्यूजन सामने आकर खड़ा हो गया.

बुधवार को कई मीडिया रिपोर्टों में यह बताया गया कि राहुल गांधी, मां सोनिया के साथ 5 जुलाई को अमेरिका जा रहे हैं. सूत्रों के हवाले से दावा किया जा रहा है कि राहुल गांधी, सोनिया के चेक-अप की वजह से अमेरिका जा रहे हैं. यहां तक तो सब ठीक था, लेकिन दूसरी खबर यह है कि राहुल गांधी को अवमानना के एक मामले में सुनवाई के लिए पटना जाना है, तारीख है- 6 जुलाई. अब सस्‍पेंस ये है कि राहुल गांधी 5 जुलाई को अमेरिका जाने के बाद 6 जुलाई पटना कैसे आ सकते हैं?

मतलब साफ है कि राहुल गांधी किसी एक जगह ही जा सकते हैं. या तो वह अमेरिका जा रहे हैं या पटना, लेकिन सस्‍पेंस सिर्फ मीडिया ही नहीं है बल्कि कांग्रेस पार्टी को भी ठीक-ठीक कुछ पता नहीं है.

टीवी9भारतवर्ष ने जब कांग्रेस नेताओं से इस बारे में बात की तो पता चला कि आधे नेता राहुल गांधी को अमेरिका भेज रहे हैं तो बाकी नेता उनके पटना जाने का दावा कर रहे हैं.

एक सवाल यह भी उठ रहा है कि मान लीजिए कि राहुल गांधी अमेरिका जा रहे हैं और उनके साथ सोनिया गांधी भी जा रही हैं. प्रियंका गांधी पहले से ही विदेश में हैं. ऐसे में कांग्रेस पार्टी के अध्‍यक्ष पद का चुनाव जब होगा, तब क्‍या गांधी परिवार का कोई भी सदस्‍य देश में मौजूद नहीं रहेगा?

राहुल गांधी ने बुधवार को संसद में पत्रकारों से बात करते हुए कहा, ‘मैं 2019 लोकसभा चुनावों में पार्टी की हार की जिम्‍मेदारी ले रहा हूं. मैं पहले ही इस्‍तीफा दे चुका हूं और पार्टी को अब नए अध्‍यक्ष का चुनाव जल्‍द करना चाहिए.’

माना जा रहा है कि कांग्रेस अब कांग्रेस वर्किंग कमेटी (CWC) की बैठक बुलाएगी. इस बैठक को संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल बुलाएंगे. कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक में राहुल के इस्तीफे को स्वीकार या अस्वीकार करने पर चर्चा होगी. फिर किसी नए अध्यक्ष को या फिर एक ग्रुप को अंतरिम तौर पर फैसले करने के लिए अधिकृत किया जा सकता है.

ये भी पढ़ें- राहुल गांधी अब नहीं हैं कांग्रेस के अध्यक्ष, जानिए क्या है उनका गेम प्लान

ये भी पढ़ें- राहुल गांधी ने दिया इस्‍तीफा, इमोशनल लेटर ट्वीट कर दिए संकेत, ‘बड़े-बड़ों पर गिरेगी गाज’