अब हिंदू युवा वाहिनी के कार्यकर्ता की हो गई पिटाई, देखें वीडियो

कहा-सुनी होती रही हिंदू युवा वाहिनी कार्यकर्ता और कांग्रेसी कार्यकर्ता अपनी-अपनी जगह पर जमे रहे, इतने में कुछ कार्यकर्ता उग्र हुए और आशीष पाठक नाम के इस शख़्स की पिटाई कर दी. वीडियो में साफ़ देख सकते हैं कि कुछ कांग्रेसी कार्यकर्ता जूतों से युवक की पिटाई कर रहे हैं.
Hindu yuva vahini, अब हिंदू युवा वाहिनी के कार्यकर्ता की हो गई पिटाई, देखें वीडियो

नई दिल्ली: विश्व के सबसे बड़े लोकतांत्रिक देश, जहां जनता के मत या विचार को सर्वोपरि माना गया है आज वहां अपनी बात रखने या किसी का विरोध करने वालों को आए दिन हिंसा की आग से गुजरना पड़ रहा है. अब यह ताज़ा वीडियो ही देखें जहां पर आशीष पाठक नाम के इस हिंदू युवा वाहिनी कार्यकर्ता की कुछ कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने पिटाई कर दी है.

यह वीडियो यूपीए चोयरपर्सन सोनिया गांधी के संसदीय क्षेत्र रायबरेली की है.

वीडियो को देखने से लगता है कि हिंदू युवा वाहिनी कार्यकर्ता ने किसी बात को लेकर कांग्रेस का विरोध किया था. जिसके बाद कई कांग्रेसी कार्यकर्ता ने उसे वहां से हटने को कहा. कहा-सुनी होती रही दोनों अपनी-अपनी जगह पर जमे रहे, इतने में कुछ कार्यकर्ता उग्र हुए और उसकी पिटाई कर दी. वीडियो में साफ़ देख सकते हैं कि कुछ कांग्रेसी कार्यकर्ता जूतों से युवक की पिटाई कर रहे हैं.

हालांकि इस दौरान भी कई लोगों ने उसे बचाने की कोशिश की और आख़िरकार उसे छुड़ा लिया गया.

कुछ दिनों पहले आपने संत कबीर नगर में बीजेपी सांसद शरद त्रिपाठी और विधायक राकेश बघेल के बीच की लड़ाई भी देखी होगी. ताज़ा वीडियो को देखकर अनायास ही यह प्रसंग ज़ेहन में तैरने लगा.

आशीष पाठक का आरोप है कि हिमांशु सिंह और कांग्रेस के ज़िलाध्यक्ष वीके शुक्ला ने उन्हें पीटा. आशीष पाठक ने कहा, ‘मैं यहां चौराहे पर आया, हिमांशु सिंह और कांग्रेस के ज़िलाध्यक्ष वीके शुक्ला ने हमको मारा. मेरा चश्मा भी तोड़ दिया. कांग्रेसी कह रहे थे चौकीदार चोर है मैंने कहा क्यों चोर है? उसपर उन्होंने मारा. मैं कहता हूं तुम कहो चौकीदार चोर है लेकिन मुझे मारा क्यों? मुझे रोड पर घसीटा. क्या गुंडई कर कांग्रेस चुनाव जीतेंगे. मैं हार्ट का पेशेंट हूं मुझे बुरी तरह से कांग्रेस के लोगों ने मारा.’

पिछले कुछ दिनों में देश के अंदर इस तरह की कई हिंसक झड़पें देखने को मिली है.

दो दिन पहले ही कोलकाता में पार्क सर्कस रेलवे स्टेशन पर एक कश्मीरी कारोबारी के साथ मारपीट की गई थी. 

कारोबारी ने बताया कि वह पिछले आठ साल से कोलकाता में शॉल बेचने का धंधा करता है.  नकद पैसे लेकर साहूकार के पास जा रहा था. पार्क सर्कस स्टेशन के पास पहुंचने पर कुछ लोगों ने उसे घेर लिया. वो बताता है, मुझसे पूछा गया कि क्या मैं कश्मीर से हूं. हां कहते ही वे मुझ पर टूट पड़े. चाकू से हमला कर दिया.

इससे पहले 7 मार्च को उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में कुछ गुंडो द्वारा दो कश्मीरियों के साथ मारपीट करने का मामला सामने आया था. जब लखनऊ के डालीगंज पुल पर भगवा कपड़ा पहने हुए कुछ गुंडों ने कश्मीर में पत्थरबाज़ों को सबक सिखाने के नाम पर ड्राई फ्रूट्स बेच रहे कश्मीरियों के साथ मार-पीट की थी.

Related Posts