सपना चौधरी की बीजेपी में ज़ोरदार ज्वाइनिंग से क्यों हो गई कुछ लोगों को परेशानी?

सपना चौधरी ने बीजेपी ज्वाइन तो कर ली लेकिन हर कोई संघ परिवार के खेमे में खुश नहीं दिखा. जिस ज़ोरशोर के साथ उनकी अगवानी हुई उसने बहुतों को असहज किया है.

सपना चौधरी की राजनीति में एंट्री मध्यप्रदेश के पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान और राष्ट्रीय संगठन महासचिव रामलाल के हाथों क्या हुई कई लोगों को आपत्ति हो गई. परेशान होनेवालों में बीजेपी और संघ के ही कई नेता हैं.

दरअसल दिल्ली के जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में बीजेपी का सदस्यता अभियान चला था. इसी दौरान हरियाणवी डांसर सपना चौधरी को भी आधिकारिक तौर पर पार्टी में शामिल किया गया जिनके राजनीतिक प्रवेश पर कयासबाज़ी चल रही थी. इस कार्यक्रम में बीजेपी के बड़े नेता मौजूद थे. लिहाज़ा कई लोगों को नहीं पचा कि आखिर एक स्थानीय सेलिब्रिटी को इतनी तवज्जो क्यों दी जा रही है.

sapna chaudhary, सपना चौधरी की बीजेपी में ज़ोरदार ज्वाइनिंग से क्यों हो गई कुछ लोगों को परेशानी?

दीगर है कि ज्वाइनिंग के अगले दिन सपना चौधरी के लिए प्रेस कॉन्फ्रेंस आयोजित की गई. सदस्यता अभियान के पूरे कार्यक्रम पर भी सपना कुछ यूं छाई रही जैसे उनके लिए ही सारा तामझाम रखा गया हो. इसके उलट सपना के साथ-साथ सात दूसरे लोग भी बीजेपी में शामिल कराए गए थे. इनमें दिव्यांग युवा, एक फर्स्ट टाइम वोटर, रिटायर्ड सैन्य अधिकारी, नौकरशाह और स्ट्रीट वेंडर शामिल थे लेकिन चर्चा सपना के ही हिस्से आई जिससे पुराने बीजेपी नेता असहज दिखे.

आरएसएस के प्रांत प्रचारक प्रमुख और राज्य मीडिया संयोजक राजीव तुली ने तो सपना के फोटो के साथ ट्वीट भी लिखा- कोरम पूरा हो गया है. पहले मनोज तिवारी, फिर हंसराज हंस और अब सपना चौधरी. हालांकि तुली इसे अपना निजी विचार बताते हैं.


एक और संघ नेता ने याद दिलाया कि बीजेपी को नहीं भूलना चाहिए कि हम दो दशकों तक दिल्ली की सत्ता में नहीं रहे. वहीं पार्टी के अंदरूनी लोगों का कहना है कि दिल्ली की 7 लोकसभा सीटों में से 3 सीटें सेलिब्रिटीज़ के नाम करने से भी एक हलचल है. दिल्ली की कमान संभाल रहे मनोज तिवारी से जब इस बाबत पूछा गया तो उन्होंने कहा कि हमने पार्टी की ओर से जारी प्रेस रिलीज़ में सभी के नाम दिए हैं, अब ये मीडिया को ही तय करना है कि किस पर उन्हें फोकस करना है.

sapna chaudhary, सपना चौधरी की बीजेपी में ज़ोरदार ज्वाइनिंग से क्यों हो गई कुछ लोगों को परेशानी?

सपना चौधरी को ज़्यादा चर्चा मिलने से पैदा हुई नाराज़गी के बीच मनोज तिवारी के समर्थक ये भी याद दिलाना नहीं भूल रहे कि कांग्रेस ज्वाइन करने की संभावनाओं के बीच तिवारी ने सपना को बीजेपी के पाले में खींचा है.