दिल्ली: एक पीड़ित से मां, बेटी, भाई और डॉक्टर को हुआ कोरोना, समझें कैसे फैलती है यह महामारी

पीड़िता दिल्ली (Delhi) की 10वीं कोरोना पॉजिटिव मरीज हैं और गोपाल झा दिल्ली के 30वें कोरोना पॉजिटिव मरीज हैं. ऐसे में समझा जा सकता है कि कोरोना वायरस (Coronavirus) कैसे एक चेन के रूप में फैलता है.

  • Manav Yadav
  • Publish Date - 7:43 am, Tue, 24 March 20

दिल्ली (Delhi) के शाहदरा के इस मामले में मरीज शमा को छोड़कर 5 लोग और कोरोना पॉजिटिव (Corona positive) पाए गए हैं. इसमें मरीज की दो बेटियां, मां, भाई और मोहल्ला क्लीनिक में काम करने वाले डॉक्टर गोपाल झा नाम शामिल हैं. पीड़िता ने सऊदी अरब (Saudi Arabia) से लौटने के बाद डॉ गोपाल ने ही इलाज किया था.

कोरोना का संक्रमण कैसे चेन बनाकर फैलता है, ये समझाने के लिए यह एक बेहतर उदाहरण है. आप इसे पढ़िए और समझिए कि कोरोना के खतरे को रोकने के लिए आइसोलेशन कितना जरूरी है.

इस मामले की टाइम लाइन-

19 फरवरी- मां अपने 19 साल के बेटे के साथ सऊदी अरब गईं.
10 मार्च- महिला अपने बेटे के साथ भारत वापस लौंटी. महिला को उनका भतीजा एयरपोर्ट से पिक करने पहुंचा जो खुद अभी self isolation में है.
12 मार्च- महिला को खांसी बुखार हुआ तो उन्होंने मोहल्ला क्लीनिक में जाकर डॉक्टर गोपाल झा को दिखाया.
15 मार्च- पीड़िता को ओला कैब के जरिए GTB अस्पताल ले जाया गया. परिवार वाले जिस ओला कैब से शमा को अस्पताल ले गए यह ड्राइवर भी isolation में है. GTB से शमा को RML अस्पताल भेज दिया गया.
17 मार्च- पीड़िता कोरोना पॉजिटिव पाई गईं.
18 मार्च- डॉक्टर की टीम पीड़िता के घर पहुंची और उनके करीबी लोगों के साथ-साथ आसपास के कुल 74 लोगों की चेन को चिन्हित किया और लिस्ट बनाई. इन 74 लोगों पर डॉक्टरों की टीम लगातार नजर रख रही है. मरीज के बेटे और परिजनों को isolation में डाला गया है.
20 मार्च- पीड़िता की मां और भाई भी कोरोना पॉजिटिव पाए गए.
21 मार्च- पीड़िता की दो बेटी जिनकी उम्र 24 और 26 साल है कोरोना पॉजिटिव पाई गईं.
22 मार्च- पीड़िता का इलाज करने वाले डॉक्टर गोपाल झा भी कोरोना पॉजिटिव पाए गए.

पीड़िता दिल्ली की 10वीं कोरोना पॉजिटिव मरीज हैं और गोपाल झा दिल्ली के 30वें कोरोना पॉजिटिव मरीज हैं. गोपाल झा को रविवार को कोरोना पॉजिटिव पाया गया था. सोमवार यानी 23 मार्च को दिल्ली में कोई भी नया मामला देखने को नहीं मिला है.