हरियाणा में कोरोना वायरस से पहली मौत, परिवार को किया गया क्‍वारंटीन

कोरोना वायरस (Coronavirus) से हुई 67 वर्षीय बुजुर्ग की मौत के बाद अंबाला के टिंबर मार्केट इलाके को पूरी तरह से सैनिटाइज करने का काम किया जा रहा है.
corona virus latest, हरियाणा में कोरोना वायरस से पहली मौत, परिवार को किया गया क्‍वारंटीन

हरियाणा में कोरोना (COVID-19) संक्रमण के कारण एक बुजुर्ग की मौत हुई है. हरियाणा में कोरोना वायरस के कारण हुई यह पहली मौत है. कोरोना वायरस के कारण अपनी जान गंवाने वाले 67 साल के यह बुजुर्ग अंबाला के निवासी थे. चंडीगढ़ स्थित पीजीआई अस्पताल में उनका इलाज चल रहा था. 31 मार्च को उन्हें चंडीगढ़ पीजीआई में भर्ती करवाया गया था. मंगलवार शाम को उनका सैंपल लिया गया था. बुधवार दोपहर उनकी रिपोर्ट आई जिसमें वह कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए. कोरोना वायरस के कारण अपनी जान गवाने वाले यह बुजुर्ग टिंबर मार्केट अंबाला छावनी के निवासी और सिंडिकेट बैंक के रिटायर्ड कर्मचारी थे.

देखिये #अड़ी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर शाम 6 बजे

कोरोना वायरस (Coronavirus) से हुई 67 वर्षीय बुजुर्ग की मौत के बाद अंबाला के टिंबर मार्केट (Timber Market Ambala) इलाके को पूरी तरह से सैनिटाइज करने का काम किया जा रहा है.

हरियाणा सरकार के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, अभी तक उनकी कोई ट्रैवल हिस्ट्री नहीं आई है. बताया जा रहा है कि वह दिल के मरीज थे. उनके परिवार में उनकी पत्नी, उनका बेटा और बहू और एक पौत्री है. बहू बैंक में कार्यरत हैं. स्वास्थ्य विभाग अब इन सभी परिजनों की जांच करवा रहा है साथ ही इन सभी लोगों को क्‍वारंटीन भी किया गया है.

अभी तक मिली जानकारी के मुताबिक लॉकडाउन (Lockdown in India) से पहले यह बुजुर्ग लगातार स्थानीय गुरुद्वारे जा रहे थे. अब गुरुद्वारे में उनके संपर्क में आए लोगों की जांच भी शुरू कर दी गई है. इतना ही नहीं गुरुद्वारा में सैनिटाइजेशन का काम भी शुरू कर किया गया है.

कोरोना वायरस के कारण अपनी जान गवाने वाले बुजुर्ग को 2017 में स्वाइन फ्लू (Swine flu) भी हुआ था. इसके अलावा वह शुगर, ह्दय रोग और बीपी के मरीज भी थे. पीजीआई भर्ती करने से एक दिन पहले उन्हें अंबाला छावनी के लाइफ लाइन अस्पताल में भी एडमिट करवाया गया था. इसके बाद 31 मार्च को उन्हें छावनी के नागरिक अस्पताल में फ्लू ओपीडी में ले जाया गया, जहां से उन्हें सीधे पीजीआई चंडीगढ़ भेज दिया गया. वहीं पर उन्होंने दम तोड़ा.

वहीं, केंद्रीय गुप्तचर एजेंसी इंटेलिजेंस ब्यूरो द्वारा इनपुट दिए जाने के बाद हरियाणा में तबलीगी जमात के मरकज से आए 500 से अधिक व्यक्तियों को क्वारंटीन किया गया है.

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में निजामुद्दीन क्षेत्र की असावधानी का उल्लेख करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा, हमें पुलिस और इंटेलिजेंस ब्यूरो (आईबी) से इनपुट मिले हैं कि कुछ कोरोना पॉजिटिव (Corona Positive) लोगों ने मार्च के महीने में देश की राजधानी दिल्ली के निजामुद्दीन क्षेत्र में एक जमात में भाग लिया. हरियाणा ने इस पर तुरंत कार्यवाही करते हुए दिल्ली के निजामुद्दीन से हरियाणा में आए 500 से अधिक लोगों को न्यूनतम 14 दिनों की अवधि के लिए क्वारंटीन में भेज दिया है.

-IANS

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

Related Posts