Coronavirus: AIIMS के डॉक्टर ने बनाया मोबाइल से चलने वाला सबसे छोटा और सस्ता वेंटिलेटर

AIIMS के न्यूरोलॉजी डिपार्टमेंट के डॉक्टर दीपक अग्रवाल ने सबसे छोटा और सस्ता वेंटिलेटर (Ventilator) बनाने का दावा किया है. डॉ. दीपक ने जिस वेटिंलेटर का इजाद किया है उसे भारत सरकार ने भी ग्रीन सिग्नल दे दिया है.
Coronavirus AIIMS doctor makes ventilator, Coronavirus: AIIMS के डॉक्टर ने बनाया मोबाइल से चलने वाला सबसे छोटा और सस्ता वेंटिलेटर

कोरोना वायरस (Coronavirus) के बढ़ते संक्रमण के बीच दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) से एक अच्छी खबर आई है. AIIMS के न्यूरोलॉजी डिपार्टमेंट के डॉक्टर दीपक अग्रवाल ने सबसे छोटा और सस्ता वेंटिलेटर (Ventilator) बनाने का दावा किया है. डॉक्टर दीपक ने जिस वेटिंलेटर का इजाद किया है उसे भारत सरकार ने भी ग्रीन सिग्नल दे दिया है और दस हजार वेंटिलेटर बनाने को कहा है.

डॉ. दीपक अग्रवाल का दावा है कि इस महीने के अंत तक वह देशवासियों को दस हजार वेंटिलेटर बना करे देंगे. वेंटिलेटर बनाने कि लिए वह नीजि कंपनियों का भी सहारा ले रहे हैं. उन्होंने कहा कि इस वेंटिलेटर के आने से कृत्रिम सांस की वजह से होने वाली मौतों में भी कमी आएगी.

वेंटिलेटर में लगा है पॉमटॉप

इस वेंटिलेटर में शरीर की गतिविधियों पर पैनी नजर रखने के लिए एक मोबाइल जो पामटॉप की तरह है उसका इस्तेमाल किया गया है. इस मोबाइल में मरीज संबंधित सभी तरह की जानकारी है और उसके शरीर में जिस किस्म की जरूरत है, उस हिसाब से मोबाइल में प्रोग्रामिंग तय किया जाता है.

Coronavirus AIIMS doctor makes ventilator, Coronavirus: AIIMS के डॉक्टर ने बनाया मोबाइल से चलने वाला सबसे छोटा और सस्ता वेंटिलेटर

काफी कम वजन का है वेंटिलेटर

दीपक अग्रवाल ने बताया कि इस वेंटिलेटर का वजन महज 3.5 किलोग्राम है और इसकी कीमत केवल 1.5 लाख रुपए है. यह आसानी से एक जगह से दूसरी जगह तक ले जाया जा सकता है.

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

किसे जरूरत है?

डॉ. दीपक ने बताया कि ऐसे मरीज जिन्हें सांस लेने में परेशानी होती है उन्हें गले में एक स्थाई ट्यूब लगाई जाती है. इसके बाद उस ट्यूब को छोटे वेंटिलेटर के साथ जोड़ दिया जाता है. यह वेंटिलेटर बिजली और बैट्री दोनों से चलता है. इसका बैट्री बैकअप 6 घंटे का है. वेंटिलेटर में लगे प्रेशर सेंसर से मरीज जरूरत के अनुसार सांस लेता और छोड़ता है. इसे आसानी से घर पर इस्तेमाल किया जा सकता है.

Coronavirus AIIMS doctor makes ventilator, Coronavirus: AIIMS के डॉक्टर ने बनाया मोबाइल से चलने वाला सबसे छोटा और सस्ता वेंटिलेटर

कितने वेंटिलेटर की जरूरत

एक अनुमानित आंकड़े के अनुसार देश मे जितने Covid-19 के मरीज हैं, उनमें 14 फीसदी मरीज को ICU की जरूरत है. इनमें से पांच प्रतिशत मरीज ऐसे हैं जिन्हें वेंटिलेटर की जरूरत है. जिस हिसाब से देश में मरीजों की तादाद बढ़ रही है, उसे ध्यान में रखते हुए सरकार ने फिलहाल 40000 वेंटिलेटर का आर्डर दिया है. इंडियन सोसाइटी ऑफ क्रिटिकल केयर के अनुसार देश में केवल चालीस हजार वेंटिलेटर हैं.

देखिये परवाह देश की सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 10 बजे

Related Posts