देश के सबसे पुराने फुटबॉल क्लब ने नोबेल विजेता अभिजीत बनर्जी को दिया ये खास तोहफा

पश्चिम बंगाल का फुटबॉल क्लब मोहन बागान न सिर्फ भारत बल्कि दुनिया भर के सबसे पुराने फुटबॉल क्लब्स में से एक है. इस क्लब की स्थापना 15 अगस्त 1889 को भूपेंद्र नाथ बोस ने की थी.
फुटबॉल, देश के सबसे पुराने फुटबॉल क्लब ने नोबेल विजेता अभिजीत बनर्जी को दिया ये खास तोहफा

भारत के दिग्गज और सबसे पुराने फुटबाल क्लबों में शुमार मोहन बागान ने हाल ही में नोबेल पुरस्कार जीतने वाले अर्थशास्त्री अभिजीत विनायक बनर्जी को अपनी आजीवन सदस्यता से सम्मानित किया है. मोहन बागान क्लब के अधिकारियों ने अभिजीत बनर्जी से उनके घर पर मुलाकात कर उन्हें लाइफ टाइम मेंबरशिप दी.

इसी के साथ मोहन बागान क्लब ने एक बयान जारी कर कहा, “सहायक महासचिव सृन्जॉय बोस और वित्तीय सचिव देबाशीष दत्ता ने नोबेल पुरस्कार विजेता अभिजीत विनायक बनर्जी से कोलकाता में शाम को चार बजे उनके घर पर मुलाकात की और उन्हें मोहन बागान एथलेटिक क्लब की आजीवन सदस्यता सौंपी.”

इसके अलावा मोहन बागान क्लब ने उनको 1911 में क्लब द्वारा ब्रिटिश टीम पर हासिल की गई पहली जीत से संबंधित कागज और टीम की जर्सी भी दी. देश के सबसे पुराने फुटबॉल क्लब की मेंबरशिप मिलने के बाद नोबेल पुरस्कार विजेता अभिजीत बनर्जी ने कहा कि वह जनवरी में जब अगली बार कोलकाता आएंगे, तो मोहन बागान का मैच देखना चाहेंगे.

मालूम हो कि पश्चिम बंगाल का फुटबॉल क्लब मोहन बागान न सिर्फ भारत बल्कि दुनिया भर के सबसे पुराने फुटबॉल क्लब्स में से एक है. इस क्लब की स्थापना 15 अगस्त 1889 को भूपेंद्र नाथ बोस ने की थी.

ये भी पढ़ें: पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय में घुस गई Tik Tok स्टार…और बना डाला ये वीडियो

Related Posts