Coronavirus: दारूल उलूम ने जारी किया फतवा- बीमारी न छिपाएं, ये गुनाह है

मुस्लिम धर्मगुरु मौलाना खालिद रशीद फिरंगी महली (Maulana Khalid Rashid Firangi Mahli) ने अपने जारी फतवे में कहा है कि कोरोना वायरस की जद में आए लोगों को अपना टेस्ट कराना चाहिए और इलाज भी जरूरी है. इस्लाम में एक इंसान की जान बचाना कई इंसानों की जान बचाने जैसा है.
Corona virus outbreak, Coronavirus: दारूल उलूम ने जारी किया फतवा- बीमारी न छिपाएं, ये गुनाह है

कोरोना वायरस (Coronavirus) प्रकोप को लेकर लखनऊ (Lucknow) में दारूल उलूम फिरंगी महल (Darul Uloom Firangi Mahal) ने एक फतवा जारी किया है. इसमें कहा गया है कि कोरोनो वायरस का परीक्षण और उपचार सभी के लिए महत्वपूर्ण है और इस बीमारी को छिपाना अपराध है.

‘टेस्ट और इलाज कराना जरूरी’

मुस्लिम धर्मगुरु मौलाना खालिद रशीद फिरंगी महली ने अपने जारी फतवे में कहा है कि कोरोना वायरस की जद में आए लोगों को अपना टेस्ट कराना चाहिए और इलाज भी जरूरी है. इस्लाम में एक इंसान की जान बचाना कई इंसानों की जान बचाने जैसा है.

देखिये #अड़ी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर शाम 6 बजे

फतवे में कहा है कि इसको छिपाना कतई जायज नहीं है. अगर लोग महामारी में अपना इलाज और टेस्ट नहीं कराते हैं लोग, तो ये बिल्कुल गैरशरई काम है. इस बीमारी को छिपाना अपराध है.

उन्होंने कहा कि इसके लिए सरकार ने जो निर्देश दिए हैं, उसका पालन करना चाहिए. डॉक्टर ने जो उपाय बताए है, उसका पालन बहुत जरूरी है.

उन्होंने कहा कि हर इंसान को दूसरे की जान बचाने का फर्ज निभना चाहिए. इसको छिपाना एक संगीन जुर्म है. इसमें एतिहात बहुत जरूरी है. मुस्लिम धर्मगुरु मौलाना फिरंगी महली ने कहा कि खुद की जान और दूसरों की जान खतरे में डालना इस्लाम में मना है.

तबलीगी जमात के 400 लोग कोरोना पॉजिटिव 

दूसरी तरफ, स्वास्थ्य मंत्रालय ने गुरुवार को कहा कि दिल्ली में हुए तबलीगी जमात कार्यक्रम से जुड़े 400 लोग कोरोना पॉजिटिव हैं. इसके साथ ही मंत्रालय का कहना है कि एन-95 मास्क के घरेलू उत्पादन को बढ़ाने के साथ ही एक करोड़ से अधिक व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण (पीपीई) के लिए भी आदेश दिया गया है.

मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने कहा कि नए मामलों की पहचान करने के लिए उनकी जांच प्रगति पर है. दक्षिण पश्चिम दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज में भाग लेने वाले काफी लोग देश के विभिन्न हिस्सों में पहुंच चुके हैं, जिन्हें ढूंढकर एकांतवास में करने का काम किया जा रहा है.

अकेले तमिलनाडु में ही 173 कोरोना के मामले दर्ज किए गए हैं, जिनका संबंध मरकज की सभा से मिला है.

(IANS)

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

Related Posts