कोई आखिर क्यों लंबे समय तक जेल में रहे, जब कोर्ट मामले का निपटारा करने में ही देरी करे: CJI

जमानत के मामलों के लंबित होने पर प्रधान न्यायाधीश (सीजेआई) रंजन गोगोई ने नाराजगी जताते हुए टिप्पणी की है.
CJI regrets huge delays, कोई आखिर क्यों लंबे समय तक जेल में रहे, जब कोर्ट मामले का निपटारा करने में ही देरी करे: CJI

जमानत के मामलों के लंबित होने पर प्रधान न्यायाधीश (Chief Justice of India) रंजन गोगोई (Justice Ranjan Gogoi) ने नाराजगी जताते हुए टिप्पणी की है. उन्होंने कहा कि कोई आखिर क्यों लंबे समय तक जेल में रहे, जब कोर्ट मामले का निपटारा करने में ही देरी करे.

CJI रंजन गोगोई ने कहा कि जमानत याचिका लंबे समय तक लंबित रखना मुख्य समस्या है. आखिर क्यों कोई लंबे समय तक जेल में रहे. CJI ने सोमवार को लंबित मुकदमों को लेकर काफी खेद भी जताया.

सुप्रीम कोर्ट ने इस बाबत दिशा निर्देश बनाने के लिए सॉलिसिटर जनरल (Solicitor General of India) तुषार मेहता और वरिष्ठ वकील आरएस सोढ़ी को असिस्ट करने को कहा. दरअसल CJI ने ये टिप्पणी इलाहाबाद हाई कोर्ट के आदेश के खिलाफ दाखिल याचिका पर सुनवाई के दौरान की.

CJI ने इस बात पर भी गौर किया कि इलाहाबाद हाई कोर्ट उन अपील पर सुनवाई कर रहा है, जो 25 साल पुराने हैं.

Related Posts