कई घंटों के इंतजार के बाद अरविंद केजरीवाल ने भरा नॉमिनेशन फॉर्म

केजरीवाल के आने से पहले ही कई निर्दलीय उम्मीदवार पहले से ही पर्चा दाखिल करने के लिए टोकन ले चुके थे. इसके चलते उन्हें नॉमिनेशन फॉर्म भरने के लिए 5 से 6 घंटों का इंतजार करना पड़ा.

आम आदमी पार्टी के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल नई दिल्ली विधानसभा से पर्चा दाखिल करने जामनगर हाउस पहुंचे. अरविंद केजरीवाल के पहुंचने से पहले ही कई उम्मीदवार पहले से ही कतार में मौजूद थे, जिसकी वजह से केजरीवाल को आपना नामांकन दाखिल करने के लिए घंटों इंतजार करना पड़ा है. लगभग 5-6 घंटे इंतजार करने के बाद अरविंद केजरीवाल का नंबर आया और उन्होंने नामांकन फॉर्म भरा.

घर से निकले लेट

दरअसल अरविंद केजरीवाल को सुबह 11 बजे नामांकन के लिए आना था. मीडिया को 10:45 का समय दिया गया था, लेकिन केजरीवाल अपनी माता गीता देवी, पिता जीआर केजरीवाल, पत्नी सुनीता और बेटी हर्षिता केजरीवाल के साथ 12.15 बजे पहुंचे. केजरीवाल के आने से पहले ही कई निर्दलीय उम्मीदवार पहले से ही पर्चा दाखिल करने के लिए टोकन ले चुके थे.

वीवीआईपी ट्रीटमेंट का दावा!

केजरीवाल के नामांकन दफ्तर में घुसते के साथ ही निर्दलीय उम्मीदवारों ने वीवीआईपी ट्रीटमेंट का आरोप लगाया और नारेबाजी करने लगे. उनका आरोप था कि केजरीवाल देरी से आए हैं और निर्वाचन अधिकारी उन्हें जल्दी से पर्चा दाखिल कराना चाहते हैं.

मैं कतार में हूं: केजरीवाल

हालांकि नारेबाजी के बीच अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर बताया कि उन्होंने भी टोकन ले लिया है और वह कतार में हैं. उन्होंने ट्वीट में बताया कि वह अपने नामांकन भरने का इंतजार कर रहे हैं. केजरीवाल ने अपना टोकन नंबर भी ट्वीट में बताया. केजरीवाल ने ट्वीट में बताया कि उनसे पहले कई लोग नामांकन दाखिल करने पहुंचे हैं. हालांकि उन्होंने इसपर खुशी भी जताई.

आम आदमी पार्टी का आरोप

केजरीवाल को घंटों इंतजार करता देख आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता मनीष सिसोदिया ने इसे बीजेपी की साजिश करार दिया. दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने अपने ट्वीट में लिखा कि बीजेपी के लोग कितनी भी कोशिश कर लें, अरविंद को पर्चा दाखिल करने से नहीं रोक सकते.

सौरभ भारद्वाज ने भी साधा निशाना

इसके बाद आम आदमी पार्टी के नेता और प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज ने भी ट्वीट कर इसे साजिश बताया. सौरभ ने ट्वीट कर कहा, ‘लगभग 35 उम्मीदवार आरओ ऑफिस में मुख्यमंत्री के साथ बैठे हैं, उनके पास पूरे कागजात भी नहीं हैं, उनके पास प्रस्तावक भी नहीं हैं. वह अपने प्रस्तावकों को फोन कर के बुला रहे हैं. उनके कागज पूरे नहीं है फिर भी वह नामाकंन दाखिल करने को लेकर डटे हुए हैं, वह मुख्यमंत्री को नामांकन नहीं भरने दे रहे हैं.’

मैं इनके साथ खुश हूं और बारी का इंतजार कर रहा हूं: केजरीवाल

सौरभ भारद्वाज के इस ट्वीट के बाद के बाद मनीष सिसोदिया ने भी फिर एक बार बीजेपी पर साजिश का आरोप लगाया. हालांकि इसके बाद अरविंद केजरीवाल ने सौरभ के ट्वीट को रिट्वीट करते हुए कहा कि पहली बार नामांकन भरने में कई सार गलतियां हो जाती हैं. उन्होंने ट्वीट कर कहा कि मैं इनके साथ खुश हूं और अपनी बारी के इंतजार में हूं.

कहीं साजिश के शिकार तो नहीं हुए केजरीवाल!

सूत्रों के मुताबिक सोमवार को भी बड़ी तादाद में निर्दलीय उम्मीदवार जामनगर हाउस पहुंचे थे, लेकिन इनमें से किसी ने भी नामांकन नहीं किया. ऐसे में बड़ा सवाल यह है कि क्या जानबूझकर केजरीवाल को इंतजार कराने के लिए इतनी बड़ी तादाद में उम्मीदवार पहुंचे!

ये भी पढ़ें: केजरीवाल, सभरवाल और सुनील यादव में कौन कितना भारी, पढ़ें- नई दिल्ली सीट की पूरी जानकारी

Related Posts