Delhi Election: अरविंद केजरीवाल के साथ मंच पर क्यों नहीं दिखे डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया?

लोगों को संबोधित करते हुए, केजरीवाल ने लोगों के जबरदस्त उत्साह के जवाब में कहा, 'मैं आपसे प्यार करता हूं.' उन्होंने कहा कि यह केवल उनकी जीत नहीं है बल्कि सभी की जीत है.
Delhi Election Result Manish Sisodia, Delhi Election: अरविंद केजरीवाल के साथ मंच पर क्यों नहीं दिखे डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया?

नई दिल्ली: दिल्ली की सत्ता पर आम आदमी पार्टी प्रचंड बहुमत के साथ सत्ता में दोबारा वापसी की है. खबर लिखे जाने तक आप को 63 सीटें मिल रही है वहीं भाजपा को सात सीटें ही मिलती हुई दिख रही है. जीत के बाद सीएम केजरीवाल ने पार्टी हेडक्वार्टर में दिल्ली की आवाम को शुक्रिया अदा किया. इस दौरान उनके साथ राघव चड्ढा समेत आप के तमाम नेता मौजूद रहे लेकिन डिप्पी सीएम मनीष सिसौदिया(Manish Sisodia) वहां नजर नहीं आए.

अक्सर सीएम केजरीवाल के साथ मनीष सिसौदिया को जरूर देखा गया है. विशेष मौकों पर सिसोदिया जरूर ही केजरीवाल के साथ रहते हैं. लेकिन पांच साल बाद लोकतंत्र का त्योहार आया और मौका था प्रचंड जीत के जश्न का. लुटियंस दिल्ली को फतह करने के बाद सीएम केजरीवाल जनता को धन्यवाद दे रहे थे. लेकिन इतने विशेष मौके पर डिप्टी सीएम वहां नहीं दिखे. ये तस्वीर लोगों की आंखों पर थोड़ी खटकी और सुगबुगाहट शुरू हुई कि क्या वजह है जो मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) नजर नहीं आए.

जानकारी के मुताबिक जीत के बाद AAP नेताओं की मंदिर दौड़ जारी थी. संबोधन के बाद अरविंद केजरीवाल हनुमान मंदिर गए. वहीं मनीष सिसोदिया पटपड़गंज विधानसभा स्थित बद्रीनाथ मंदिर गए हुए थे. जिस वक्त सीएम केजरीवाल जनता को संबोधित कर रहे थे, उस वक्त मनीष सिसोदिया मंदिर में पूजा अर्चना कर रहे थे. मनीष सिसोदिया नामांकन दाखिल करने से पहले भी इसी मंदिर में गए थे.

आम आदमी पार्टी(आप) प्रमुख अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को कहा कि राजधानी में पार्टी की शानदार जीत भगवान हनुमान के आशीर्वाद का परिणाम है. केजरीवाल मंगलवार को स्पष्ट बहुमत प्राप्त करने के बाद पहली बार पार्टी कार्यालय में अपने कार्यकर्ताओं को संबोधित कर रहे थे. केजरीवाल ने टीवी पर हुनमान चालीसा का पाठ किया था और मतदान के एक दिन पहले वह हनुमान मंदिर गए थे, जिसका भाजपा ने मजाक उड़ाया था.

लोगों को संबोधित करते हुए, केजरीवाल ने लोगों के जबरदस्त उत्साह के जवाब में कहा, ‘मैं आपसे प्यार करता हूं.’ उन्होंने कहा कि यह केवल उनकी जीत नहीं है बल्कि सभी की जीत है. उन्होंने कहा, “दिल्ली ने यह संदेश दिया है कि वे उनके लिए मतदान करेंगे जो उन्हें विद्यालय, सस्ती बिजली और अस्पताल मुहैया कराएगा. यह नई तरह की राजनीति है. यह देश के लिए एक नया और अच्छा साइन है.”

केजरीवाल ने कहा कि एक नई तरह की राजनीति का उदय हुआ है, जो ‘काम की राजनीति’ है. मुख्यमंत्री ने जीत के लिए सभी को धन्यवाद देते हुए कहा, “आज मंगलवार है और हनुमानजी ने हमें आशीर्वाद दिया है. हम दिल्ली के 2 करोड़ लोग, शहर को सुंदर बनाएंगे. मेरे परिवार ने मेरा समर्थन किया. आज मेरी पत्नी का जन्मदिन है. मैंने केक खा लिया है, आपको भी मिलेगा.”

मुख्यमंत्री ने कहा, “लोगों ने हमें बड़ी उम्मीदों के साथ चुना है. मैं इसे अकेले नहीं कर सकता. हम सभी को साथ मिलकर काम करना होगा.”

Related Posts