Corona: शवों से लापरवाही पर High Court में सुनवाई, केजरीवाल सरकार ने बताई मेडिकल स्टाफ की कमी

याचिकाकर्ता वकील ने कोर्ट से कहा था कि 'दिल्ली सरकार (Delhi Government) ने हाई कोर्ट से पहले कहा था कि अब किसी भी प्रकार से शवों की लापरवाही का मामला सामने नहीं आएगा. लेकिन हाल ही में अस्पतालों से मरीजों के पास रखे ग‌ए शवों की क‌ई तस्वीरें सामने आई हैं.'
Delhi government High Court, Corona: शवों से लापरवाही पर High Court में सुनवाई, केजरीवाल सरकार ने बताई मेडिकल स्टाफ की कमी

दिल्ली सरकार (Delhi Government) ने हाई कोर्ट (High Court) से कहा कि उनके 4 डॉक्टरों की मौत कोरोना (Corona) की वजह से हो चुकी है. कई डॉक्टर और मेडिकल स्टाफ कोरोना संक्रमित हैं. इसके चलते सरकार के पास डॉक्टरों और मेडिकल स्टाफ की कमी आ गई है. ऐसे में दिल्ली सरकार के खिलाफ कोर्ट की अवहेलना की कार्रवाई करना जायज नहीं होगा.

‘मरीजों के पास रखे ग‌ए शवों की तस्वीरें फिर आईं सामने’

सुनवाई के दौरान याचिकाकर्ता वकील अवध कौशिक ने कोर्ट से कहा था कि दिल्ली सरकार ने हाई कोर्ट से पहले कहा था कि अब किसी भी प्रकार से शवों की लापरवाही का मामला सामने नहीं आएगा. लेकिन, हाल ही में अस्पतालों से मरीजों के पास रखे ग‌ए शवों की क‌ई तस्वीरें सामने आई है, ये स्थिति गंभीर है.

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार इस मामले में कोर्ट के निर्देशों का पालन नहीं कर रही है. अस्पताल के मेडिकल डायरेक्टर और राज्य सरकार पर कोर्ट की अवहेलना का मुकदमा लगना चाहिए.

दिल्ली सरकार के वकील ने हाई कोर्ट में दलील दी कि इसी तरह का मामला सुप्रीम कोर्ट में भी चल रहा है, जिस पर 20 जुलाई को सुनवाई होनी है. इसके बाद दिल्ली हाई कोर्ट ने मामले की सुनवाई 29 जुलाई तक के लिए टाल दी है.

कोर्ट के आदेश का पालन ना करने को लेकर याचिका

दरअसल, दिल्ली हाई कोर्ट में कोरोना मरीजों के शवों के साथ लापरवाही करने और मामले में ‌कोर्ट के आदेश का पालन ना करने पर दिल्ली सरकार के खिलाफ कोर्ट की अवमानना याचिका दायर की गई थी.

याचिकाकर्ता की तरफ से कहा गया था कि शवों के अंतिम क्रिया करने को लेकर हाई कोर्ट के आदेश का पालन नहीं किया जा रहा है. इस वजह से दिल्ली सरकार और LNJP अस्पताल के खिलाफ अवमानना का मामला बनता है.

देखिये परवाह देश की सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 10 बजे

Related Posts