दिल्ली HC की सरकार और एजेंसियों को फटकार, भूकंप आने से पहले किसी का इंतजार नहीं करता

दिल्ली सरकार और निकायों का जवाब सुनने के बाद कोर्ट ने नाराजगी जताई और कहा कि भूकंप (Earthquake) तीन साल का इंतजार नहीं करता, कभी भी आ सकता है, इसलिए सरकार और सभी निकाय अपना काम ठीक से करें. 

दिल्ली में आए दिन भूकंप (Earthquake) के झटके आ रहे हैं. ऐसे हालात में दिल्ली हाईकोर्ट (Delhi High court) ने दिल्ली सरकार और राज्य की सभी सिविक एजेंसियों की तैयारियों को लेकर नाराजगी जताई है. कोर्ट ने दिल्ली सरकार और सिविक एजेंसियों (Civic Bodies) को फटकार लगाते हुए कहा कि तुरंत एक्शन प्लान पर काम करें और अपने-अपने क्षेत्र में भूकंप के मद्देनजर इमारतों पर काम करें और उचित कदम उठाए जाएं.

कोर्ट ने टिप्पणी करते हुए कहा कि भूकंप किसी का इंतज़ार नहीं करता वो आ जाता है, जिससे जान और माल का नुकसान हो सकता है. पिछले दो महीने में दिल्ली- एनसीआर में कई बार भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं. इस खतरे के मद्देनजर बिना समय गवाए दिल्ली सरकार और सभी निकाय अपना अपना काम मुस्तैदी से करें.

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

दिल्ली सरकार ने कहा 3 साल  का वक्त चाहिए

कोर्ट में दिल्ली सरकार और सभी सिविक एजेंसी ने हलफनामा दायर कर कहा कि भूकंप की स्थिति से निपटने के लिए एक्शन प्लान तैयार है लेकिन इस पर काम करने के लिए तीन साल का वक्त चाहिए. सबसे पहले हाई राइज बिल्डिंग्स को चिन्हित कर जरूरी कदम उठाए जाएंगे फिर लो राइज बिल्डिंग पर काम किया जाएगा.

दिल्ली सरकार और निकायों का जवाब सुनने के बाद कोर्ट ने नाराजगी जताई और कहा कि भूकंप तीन साल का इंतजार नहीं करता कभी भी आ सकता है. इसलिए सरकार और सभी निकाय अपना काम ठीक से करें.

दरअसल, याचिकाकर्ता और वकील अर्पित भार्गव ने दिल्ली हाईकोर्ट में एक याचिका दायर कर कहा था कि दिल्ली में पिछले दो महीने में कई बार भूकंप के झटके महसूस किए जा चुके हैं.याचिका में कहा गया कि भविष्य में इसी तरह के ओर भी झटके आ सकते हैं और राज्य में काफी बिल्डिंग्स की हालत जर्जर है और यह कभी भी धराशाही हो सकती है. इसके अलावा याचिकाकर्ता ने कोर्ट को ये भी बताया कि साल 2015 से अभी तक दिल्ली हाईकोर्ट ने भूकंप से संबंधित जितने भी आदेश और निर्देश दिए हैं उनका पालन नहीं किया गया है.

देखिये परवाह देश की सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 10 बजे

 

Related Posts