सोते समय चूहे ने कुतर डाले शख्स के दोनों पैर, नहीं हुआ एहसास

शुगर के एक जगह इकट्ठा हो जाने के कारण चूहे और चींटी दूर से इसकी सुगंध ले लेते हैं.
Diabetes, सोते समय चूहे ने कुतर डाले शख्स के दोनों पैर, नहीं हुआ एहसास

एक छोटी सी सुईं भी अगर हमारे शरीर में चुभती है तो उसका एहसास हमें तुरंत हो जाता है. क्या ऐसा संभव है कि आपको चोट लगे और उसका आपको पता भी न चले? ऐसा ही कुछ दिल्ली के एक व्यक्ति के साथ हुआ है, जिसके पैरों को चूहे ने कुतर दिया, लेकिन उसे इसका एहसास तक नहीं हुआ.

52 वर्षीय यह व्यक्ति डायबिटीज का मरीज है. सोते समय उसका एक पैर चुहे ने कुतर दिया, जिसका उसे पता चल नहीं चला. जब वह सोकर उठा तो उसके पैर से खून निकल रहा था. वह डॉक्टर के पास गया और डॉक्टर ने उसे किसी तरह चोट लगने की बात कह वापस भेज दिया.

इसके बाद अगले दिन जब वह सोकर उठा तो उसके दूसरे पैर से खून निकल रहा था. वह घबरा गया और उसने अपने पुराने डॉक्टर से संपर्क किया. उसके डॉक्टर ने उसे बताया कि यह खून चूहे के कुतरे जाने के कारण निकल रहा है. जब इस व्यक्ति ने डॉक्टर से पूछा कि अगर चूहे ने कुतरा है तो उसे इसका एहसास क्यों नहीं हुआ.

इसका जवाब देते हुए डॉक्टर ने उससे कहा कि डायबिटीज से लंबे समय तक पीड़ित रहने वाला व्यक्ति न्यूरोपैथी का शिकार होता है, जिसके कारण उसके पैरों में सेंसेशन खत्म हो जाता है. ऐसे में उसे न तो किसी भी प्रकार की चोट, चुभन या जलन का एहसास होता है.

डॉक्टर ने बताया कि डायबिटीज का लेवल जब बढ़ जाता है तो रात को सोते समय पैर के हिस्से में शुगर इकट्ठा हो जाता है. शुगर के एक जगह इकट्ठा हो जाने के कारण चूहे और चींटी दूर से इसकी सुगंध ले लेते हैं. पैर सुन्न होने के कारण मरीज को कुतरे जाने का एहसास नहीं होता.

फिलहाल इस मरीज को डॉक्टर ने एंटी रैबीज और टैटनस का इंजेक्शन लगा दिया है और साथ ही शुगर कंट्रोल करने की दवाई भी दी है.

 

ये भी पढ़ें-   महाराष्‍ट्र विधानसभा चुनाव के लिए BJP की चौथी लिस्‍ट, एकनाथ खडसे की जगह बेटी को टिकट

VIDEO: कुत्‍ते पीछा ना कर सकें इसलिए छिड़का मिर्च पाउडर, जानें कैसे अंजाम दी गई 13 करोड़ की चोरी

 

Related Posts