Pollution Latest Update: TERI ने कहा, Delhi NCR में कर्मचारियों को दी जाए ‘वर्क फ्रॉम होम’ की अनुमति

पंजाब और हरियाणा में पराली जलाना जारी है. दोनों राज्यों में रविवार को धुंध की परत छाई रही, इसके साथ ही पीएम 2.5 का स्तर काफी ज्यादा हो गया है और कई जगहों पर यह 800 पार हो गया है.

दिल्ली में गंभीर वायु प्रदूषण के बाद हेल्थ इमरजेंसी लगाना पड़ गया, जिसने अंतर्राष्ट्रीय सुर्खियां बटोरी. दिल्ली के आसमान को ढंकने वाली जहरीली धुंध प्रदूषक तत्वों के जमा होने के कारण अब भी बनी हुई है. दिल्ली में एक्यूआई गंभीर प्लस श्रेणी में है. जानिए प्रदूषण से जुड़ी दिनभर की सारी जानकारी…

दिल्ली कांग्रेस के नेताओं ने प्रदूषण वृद्धि को लेकर गिरफ्तारी दी

राष्ट्रीय राजधानी में प्रदूषण के खतरनाक स्तर पर पहुंच जाने के बाद कांग्रेस और सत्ताधारी आम आदमी पार्टी आप के बीच राजनीतिक लड़ाई शुरू हो गई है. कांग्रेस की दिल्ली इकाई के नेताओं ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर प्रदूषण रोकने के लिए कोई कदम न उठाने का आरोप लगाया और राज्य सरकार के खिलाफ गिरफ्तारी भी दी. केजरीवाल के आवास पर आयोजित विरोध प्रदर्शन का नेतृत्व नवनियुक्त डीपीसीसी अध्यक्ष सुभाष चोपड़ा ने किया.

दिल्ली में प्रदूषण से लड़ रहीं 300 टीमें

केंद्र सरकार राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में बढ़ते प्रदूषण पर करीब से नजर रखे हुई है. अधिकारियों ने बताया कि लगभग 300 टीमें प्रदूषण को कम करने में लगी हुई हैं. इस काम के लिए जरूरी मशीनरी राज्यों में बांटी गई हैं. केंद्र सरकार की नजर मुख्य रूप से सात औद्योगिक क्षेत्रों और बड़े यातायात गलियारों पर है. प्रदूषण फैलाने वाली इकाइयों, कचरों को जलाए जाने और निर्माण गतिविधियों पर खासतौर से नजर रखी जा ही है.

प्रदूषण के मद्देनजर घर से काम करने का टेरी का सुझाव

‘द एनर्जी एंड र्सिोसेज इंस्टीट्यूट (टेरी)’ ने प्रदूषण के संपर्क में कम से कम आने के लिए गैर जरूरी यात्राओं से बचने और संगठनों को अपने कर्मचारियों को रिमोट मॉडल ऑफ वर्किंग से काम करने का अनुमति देने की अपील की है. संस्था ने माता-पिता से बच्चों के बाहर जाने के समय में कटौती करने का आग्रह किया है. दिल्ली सरकार पहले ही स्कूलों को बंद करने की घोषणा कर चुकी है.
टेरी के महानिदेशक अजय माथुर ने कहा, “दिल्ली/एनसीआर में सार्वजनिक और निजी संगठनों को चाहिए कि वे लोगों को अपने घरों से काम करने की अनुमति दें.”

पंजाब, हरियाणा में धुंध बनी रही, पीएम 2.5 स्तर काफी ज्यादा

पंजाब व हरियाणा में पराली जलाना जारी है. दोनों राज्यों में रविवार को धुंध की परत छाई रही, इसके साथ ही पीएम 2.5 का स्तर काफी ज्यादा हो गया है और कई जगहों पर यह 800 पार हो गया है. पीएम 2.5, हवा में छोटे कण होते हैं जो दृश्यता को घटाते है और इसके स्तर के ज्यादा होने से धुंध बनती है.

औद्योगिक शहर मंडी गोबिंदगढ़ में सुबह 7.30 बजे पीएम 2.5 एक्यूआई 844 पर था, जो राज्य में सबसे खराब था.

Pollution Latest Update, Pollution Latest Update: TERI ने कहा, Delhi NCR में कर्मचारियों को दी जाए ‘वर्क फ्रॉम होम’ की अनुमति

दिल्ली के प्रदूषण पर प्रधानमंत्री के प्रधान सचिव ने आपात बैठक की

प्रधानमंत्री के प्रधान सचिव ने दिल्ली, आसपास के इलाकों और उत्तर भारत के अन्य हिस्सों में रविवार को वायु प्रदूषण के खतरनाक स्तर पर पहुंच जाने को लेकर पैदा हुई गंभीर स्थिति की समीक्षा की. पी.के. मिश्रा ने गंभीर वायु प्रदूषण से पैदा हुई स्थिति की एक उच्चस्तरीय बैठक में रविवार को समीक्षा की. प्रदूषण से सर्वाधिक प्रभावित तीन राज्यों पंजाब, हरियाणा और दिल्ली के अधिकारियों ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए बैठक में हिस्सा लिया.

कैबिनेट सचिव राजीव गौबा इन राज्यों के साथ हर रोज स्थिति पर निगरानी रखेंगे और एक बेहतर समन्वय के लिए आवश्यक निर्देश देंगे. तीनों राज्यों में अलग-अलग पार्टियों की सरकारें हैं, जिनके बीच इस मुद्दे को लेकर राजनीतिकरण और आरोप-प्रत्यारोप का खेल चल रहा है.

प्रदूषण पर आरोप-प्रत्यारोप छोड़ एकसाथ बैठने की जरूरत : केजरीवाल

राष्ट्रीय राजधानी में रविवार को वायु गुणवत्ता सूचकांक(एक्यूआई) एक हजार के खतरनाक स्तर तक पहुंच गया. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने इसपर चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि वह इस मुद्दे पर आरोप-प्रत्यारोप और राजनीति का खेल नहीं खेलना चाहते हैं. उन्होंने कहा कि केंद्र और राज्य सरकार को चाहिए की एकसाथ बैठें और इस मुद्दे को समाधान निकालें. राष्ट्रीय राजधानी और आसपास के इलाकों में पसरे घने धुंध पर चिंता व्यक्त करते हुए आम आदमी पार्टी (आप) के नेता ने रविवार को एक शॉर्ट वीडियो ट्विटर पर पोस्ट किया. उन्होंने इसमें कहा कि अगर दिल्ली में वायु प्रदूषण बढ़ा है, तो इसका कारण पड़ोसी राज्यों द्वारा पराली जलाया जाना है.

पंजाब में पराली जलाने के मामले 30 फीसदी बढ़े

पड़ोसी राज्यों में पराली जलाने के कारण बढ़ने वाले प्रदूषण से दिल्ली-एनसीआर की आबोहवा दिन-प्रतिदिन बिगड़ रही है. पहले से ही प्रदूषण की मार झेल रहे एनसीआर में लोगों का सांस लेना भी दूभर हो गया है. मगर पड़ोसी राज्य पराली जलाने से बाज नहीं आ रहे. पंजाब में पिछले साल की अपेक्षा इस बार पराली जलाने के मामलों में 30 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है. पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने किसानों से अपील की है कि वे पराली न जलाकर अन्य विकल्प अपनाएं.

लखनऊ : एयर क्वालिटी  बिगड़ने से लोगों को चक्कर आने शुरू

लखनऊ के गोमती नगर में रहने वाली सात वर्षीय दिशा अपने घर में सीढ़ियों पर चढ़ रही थी कि अचानक से वह हांफने लगी और तुरंत गिर गई. उसके पिता उसे तुरंत अस्पताल ले गए जहां डॉक्टरों ने उसे ऑक्सीजन पर रखा हुआ है. जानकीपुरम में इंजीनियरिंग के छात्र शरद अहिरवार की शुक्रवार रात अचानक सांस लेने में तकलीफ होने पर नींद खुल गई. वह अब किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी (केजीएमयू) में भर्ती हैं.

Pollution Latest Update, Pollution Latest Update: TERI ने कहा, Delhi NCR में कर्मचारियों को दी जाए ‘वर्क फ्रॉम होम’ की अनुमति

दिल्ली में एयर क्वालिटी इंडेक्स खतरनाक स्तर तक पहुंचा

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में रविवार को एयर क्वालिटी इंडेक्स (एक्यूआई) खतरनाक स्तर तक पहुंच गया. शनिवार शाम थोड़ी राहत के बाद 625 के खतरनाक स्तर तक पहुंचने के चलते वापस से शहर में ‘गंभीर प्लस श्रेणी’ बरकरार है. हलांकि, मौसम विभाग का कहना है कि रविवार को इसमें कुछ राहत मिलने की संभावना है परंतु प्रदूषकों (पोल्यूटेंट) के चलते दृश्यता पर असर पड़ रहा है.

CISF ने IGI, मेट्रो स्टेशनों पर तैनात कर्मियों को मास्क बांटे

दिल्ली में वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) के रविवार को 625 के खतरनाक स्तर पर पहुंचने के बाद शहर को प्रदूषण के मामले में गंभीर से आगे की श्रेणी में डाल दिया गया है और ऐसे में सीआईएसएफ के महानिदेशक राजेश रंजन ने दिल्ली और एनसीआर में इंदिरा गांधी हवाईअड्डा, मेट्रो स्टेशनों और अन्य सरकारी प्रतिष्ठानों पर तैनात अपने सभी कर्मियों को प्रदूषण रोधी मास्क तत्काल वितरित करने के आदेश दिए हैं.

प्रदूषण रोकने इंद्र देव की प्रार्थना करें : उप्र मंत्री

उत्तर प्रदेश के एक मंत्री ने प्रदूषण की समस्या का एक अनोखा हल सुझाया है. मंत्री का मानना है कि यज्ञ से भगवान इंद्र प्रसन्न होंगे, जिससे बारिश होगी और प्रदूषण में कमी आएगी. उत्तर प्रदेश के मंत्री सुनील भराला की टिप्पणी ऐसे समय में आई है, जब दिल्ली, उत्तर प्रदेश के पश्चिमी व मध्य भाग सबसे खराब हवा की गुणवत्ता से जूझ रहे हैं. ज्यादातर जगहों पर वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) का स्तर या तो ‘बहुत खराब’ या ‘गंभीर’ श्रेणी में पहुंच गया है.

भराला ने कहा कि पराली जलाना प्राकृतिक प्रक्रिया है और इससे इस हद तक प्रदूषण नहीं होता.

Pollution Latest Update, Pollution Latest Update: TERI ने कहा, Delhi NCR में कर्मचारियों को दी जाए ‘वर्क फ्रॉम होम’ की अनुमति

प्रदूषण को लेकर 4 नवंबर को सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई

दिल्ली-एनसीआर में प्रदूषण की रोकथाम और नियंत्रण के लिए सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित प्राधिकरण ईपीसीए ने कोर्ट के सामने अपनी रिपोर्ट पेश की. सुप्रीम कोर्ट इस पर 4 नवंबर यानी सोमवार को सुनवाई करेगी. जस्टिस अरुण मिश्रा की अध्यक्षता वाली बेंच सोमवार को दिल्ली-एनसीआर में प्रदूषण को लेकर दाखिल रिपोर्ट पर गौर करेगी. इसके साथ ही दिल्ली के पड़ोसी राज्यों में जलने वाली पराली को लेकर भी सुनवाई उसी दिन करेगी.प्रदूषण के मद्देनजर घर से काम करने का टेरी का सुझाव

स्कूलों में 4 से 5 नवम्बर का अवकाश

हरियाणा सरकार ने दिल्ली और एनसीआर में वर्तमान वायु प्रदूषण व केन्द्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के दिशानिर्देशों के मद्देनजर सभी जिला उपायुक्तों, जिला शिक्षा अधिकारियों और जिला मौलिक शिक्षा अधिकारियों को बोर्ड के दिशा निर्देश अक्षरश: सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं.

इस कड़ी में राज्य के जिला गुरुग्राम व फरीदाबाद के सभी 12वीं कक्षा तक के निजी, सहायता प्राप्त और सरकारी स्कूलों में 4 से 5 नवम्बर का अवकाश घोषित किया गया है. अन्य शेष जिलों के उपायुक्त अपने-अपने जिलों हेतु स्थानीय प्रदूषण स्थिति के अनुसार 12वीं कक्षा तक के निजी, सहायता प्राप्त और सरकारी स्कूलों में 4 से 5 नवम्बर का अवकाश घोषित कर सकते हैं.