असम में टेस्ट ब्लास्ट कर दिल्ली को बनाने वाले थे टारगेट…पुलिस ने गिरफ्तार किए ISIS के तीन आतंकी

पुलिस के मुताबिक पहले ये संदिग्ध असम के रासमेल लोकल मेले में टेस्ट रन के तौर पर IED ब्लास्ट करने वाले थे, जिसका असली टारगेट फिर दिल्ली होता.
delhi police arrested 3 ISIS terrorist, असम में टेस्ट ब्लास्ट कर दिल्ली को बनाने वाले थे टारगेट…पुलिस ने गिरफ्तार किए ISIS के तीन आतंकी

दिल्ली पुलिस के स्पेशल सेल ने असम पुलिस की मदद से सोमवार को कथित तौर पर ISIS से संबंध रखने वाले तीन संदिग्धों को IED समेत गिरफ्तार किया है. जानकारी के मुताबिक ये तीनों संदिग्ध असम के गोलपारा में रासमेल मेला में टेस्ट के तौर पर IED ब्लास्ट करने वाले थे. जिसका अगला और फाइनल टारगेट राजधानी दिल्ली में एक बड़े आतंकी हमले को अंजाम देना था.

DCP दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल प्रमोद कुशवाहा ने बताया कि पुलिस ने इम्प्रोवाइज्ड एक्सप्लोसिव डिवाइस (IED) के साथ तीन संदिग्धों को गिरफ्तार करते हुए राजधानी दिल्ली में एक बड़े आतंकी हमले को टाल दिया है. उन्होंने बताया कि दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल ने इन संदिग्धों को असम के गोलपारा से गिरफ्तार किया है. पकड़े गए संदिग्धों की पहचान इस्लाम, रंजीत अली और जमाल के तौर पर हुई है. इनके पास से एक कम्पलीट IED, 1 किलो विस्फोटक और 2 विशेष चाकू बरामद हुए हैं.

असम के मेले में करना चाहते थे टेस्ट ब्लास्ट

दिल्ली पुलिस के मुताबिक पकड़ा गया आतंकी जमाल आधार सेंटर में काम करता था. ये तीनों आपस में बात करने के लिए ऐसे प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल करते थे, जिसे ट्रैक करना काफी मुश्किल था. दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने इनके बारे में असम पुलिस से जानकारी शेयर की, जिसके बाद उनकी मदद से ही इन तीनों को गिरफ्तार किया गया.

पुलिस के मुताबिक पहले ये संदिग्ध असम के रासमेल लोकल मेले में टेस्ट रन के तौर पर IED ब्लास्ट करने वाले थे, जिसका असली टारगेट फिर दिल्ली होता. मालूम हो कि रासमेल मेला में काफी भीड़ होती है. वहां आतंकी हमले को अंजाम देने के बाद दिल्ली के भीड़भाड़ वाले इलाके को टारगेट बनाने का इनका प्लान था. जानकारी के मुताबिक जो IED इन्होंने बनाई है वो ISIS के वीडियो क्लिप और i do it myself देखकर बनाई गई थी.

जानकारी के मुताबिक लोन वुल्फ अटैक के लिए भी ये तीनों तैयार थे. इनके पास से कुछ हथियार जैसे तलवार और चाकू भी मिले हैं. बताया जा रहा है कि ये ISIS के हैंडलर्स के संपर्क में थे और दिल्ली में भी इनके कुछ लोग थे जिनसे ये संपर्क में थे. इस मामले में केस असम पुलिस ने दर्ज किया है और आगे की जांच दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल कर रही है.

ये भी पढ़ें: पाकिस्तान ने कुरान जलाने की घटना पर नॉर्वे के राजदूत को किया तलब

Related Posts