Coronavirus: दिल्ली में 24 घंटे में सामने आए 2199 पॉजिटिव केस, 62 लोगों की मौत

दिल्ली में कुल 87,360 कोरोना पॉजिटिव (Positive) मामलों में से 58,348 व्यक्ति इलाज के बाद स्वस्थ हुए हैं, जबकि अभी भी राज्य में 26,270 एक्टिव कोरोना मरीज हैं. एक्टिव कोरोना मरीजों में से 16,240 कोरोना पॉजिटिव लोगों का इलाज उनके घरों पर ही हो रहा है.

देश की राजधानी दिल्ली में बीते 24 घंटे के दौरान कोरोनावायरस (Coronavirus) से 62 व्यक्तियों की मौत हो  गई है. इसी के साथ राज्य में 2,199 पॉजिटव मामले सामने आए हैं.

दिल्ली सरकार ने मंगलवार को कोरोना बुलेटिन जारी करते हुए कहा, “बीते 24 घंटे के दौरान कोरोना से 62 व्यक्तियों की मृत्यु हुई है. राज्य में अभी तक कोरोना से कुल 2,742 व्यक्तियों की मृत्यु हो चुकी है. वहीं 24 घंटे के दौरान ही 2,199 नए कोरोना पॉजिटिव मामले सामने आए हैं. दिल्ली में अब तक 87,360 कोरोना पॉजिटिव मामले आ चुके हैं. जबकि इन्हीं 24 घंटों के दौरान 2,113 कोरोना मरीज स्वस्थ भी हुए हैं.”

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

दिल्ली में अभी तक सामने आए कुल 87,360 कोरोना पॉजिटिव (Positive) मामलों में से 58,348 व्यक्ति इलाज के बाद स्वस्थ हुए हैं, जबकि अभी भी दिल्ली में 26,270 एक्टिव कोरोना मरीज हैं, एक्टिव कोरोना मरीजों में से 16,240 कोरोना पॉजिटिव लोगों का इलाज उनके घरों पर ही हो रहा है. इन सभी 16,240 कोरोना पॉजिटिव व्यक्तियों को होम आइसोलेशन में रखा गया है.

 राज्य में 440 कंटेनमेंट जोन

बढ़ते कोरोना मामलों के साथ ही दिल्ली में कंटेनमेंट जोन (Containment Zone) की संख्या भी लगातार बढ़ रही है. दिल्ली में इस समय 440 कंटेनमेंट जोन हैं. मंगलवार को पांच कंटेनमेंट जोन की वृद्धि हुई है सोमवार को दिल्ली में कुल 435 कंटेनमेंट जोन थे. यहां रहने वाले लोगों को इस कंटेनमेंट क्षेत्र से बाहर जाने की इजाजत नहीं है.

आईबीएल अस्पताल में बनाया जाएगा प्लाज्मा बैंक

कोरोना मरीजों के इलाज के लिए दिल्ली में प्लाज्मा बैंक बनाया जाएगा. यह बैंक किसी सामान्य ब्लड बैंक की तरह काम करेगा. कोरोना मरीज आवश्यकता पड़ने पर प्लाज्मा थेरेपी (Plasma Therapy) के लिए यहां से प्लाज्मा हासिल कर सकेंगे. दिल्ली सरकार ने यह प्लाज्मा बैंक आईएलबीएस अस्पताल में स्थापित करने का फैसला लिया है.

गौरतलब हो कि दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री रहे सत्येंद्र जैन (Satyender Jain) कोरोना पोजिटिव पाए गए थे. हालांकि अब वह स्वस्थ हो चुके हैं और उन्हें अस्पताल से छुट्टी भी मिल चुकी है. सत्येंद्र जैन ने कहा, “मैं घर पर हूं और अब मेरा स्वास्थ्य बेहतर हो रहा है. मुख्यमंत्री द्वारा प्लाज्मा बैंक की घोषणा एक क्रांतिकारी कदम है. प्लाज्मा थेरेपी से ही मेरा जीवन बचाया गया है. मैं स्वयं जल्द से जल्द डॉक्टरों की सलाह पर अपना प्लाज्मा डोनेट करूंगा.”

देखिये परवाह देश की सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 10 बजे

Related Posts