‘मैंने धरना देने की बात कही थी…’, दिल्ली दंगे को भड़काने के आरोप पर कपिल मिश्रा ने पुलिस को दी सफाई

बीजेपी नेता कपिल मिश्रा (Kapil Mishra) पर नॉर्थ ईस्ट दिल्ली में हुए दंगे (Delhi Riots) को भड़काने के आरोप लगे थे. दिल्ली पुलिस की पूछताछ में उन्होंने आरोपों पर क्या सफाई दी थी अब सामने आया है.

  • TV9 Hindi
  • Publish Date - 9:59 am, Tue, 22 September 20
कपिल मिश्रा भीड़ को संबोधित करते हुए

बीजेपी नेता कपिल मिश्रा (Kapil Mishra) पर नॉर्थ ईस्ट दिल्ली में हुए दंगे (Delhi Riots) को भड़काने के आरोप लगे थे. दिल्ली पुलिस की पूछताछ में उन्होंने आरोपों पर क्या सफाई दी थी अब सामने आया है. लगे आरोपों पर कपिल मिश्रा ने पुलिस से कहा कि उन्होंने कोई स्पीच नहीं दी थी, बल्कि सिर्फ धरना प्रदर्शन की बात की थी.

पता चला है कि दिल्ली दंगों के संदर्भ में कपिल मिश्रा (Kapil Mishra) से जुलाई के आखिरी हफ्ते में पूछताछ हुई थी. यह बात दिल्ली पुलिस द्वारा कड़कड़डूमा कोर्ट में दायर चार्जशीट (Delhi Riots Chargesheet) में बताई गई है.

पढ़ें – दिल्ली दंगे: 26 पूर्व डीजीपी ने दिया रिबेरो की चिट्ठी का जवाब, पुलिस की कार्रवाई का किया समर्थन

इंडियन एक्सप्रेस की खबर के मुताबिक, चार्जशीट में लिखा है कि कपिल मिश्रा ने पूछताछ के दौरान बताया कि वह मौजपुर चौक पर हालात को सामान्य करने गए थे. उन्होंने कहा कि मौजपुर में उन्होंने कोई भाषण नहीं दिया और डीसीपी के साथ खड़े होकर उन्होंने धरने को काउंटर करने के लिए धरना देने की बात कही थी.

सफाई में बोले कपिल मिश्रा – धरने की बात कही थी

बता दें कि कपिल मिश्रा का 23 फरवरी का एक वीडियो सामने आया था. जिसमें वह नॉर्थ ईस्ट डीसीपी वेद प्रकाश सूर्या के साथ खड़े थे. कपिल वहां से कहते हैं कि अगर पुलिस ने हमारी नहीं सुनी और सड़क खाली (प्रदर्शनकारियों से) तो हमें सड़कों पर उतरना होगा.’ सफाई में कपिल मिश्रा ने कहा कि मैंने डीसीपी से विनती की थी कि तीन दिन में जाफराबाद और चांदबाग के इलाकों को खाली करवाया जाए. वर्ना हम भी धरने पर बैठ जाएंगे.

पढ़ें – दिल्ली हिंसा: ‘दाहिनी जेब में था देसी कट्टा’, विधानसभा समिति ने ‘एक जैसी FIRs’ को लेकर उठाए सवाल

कपिल मिश्रा से पूछा गया कि वह मौजपुर चौक क्यों गए थे. इसपर उन्होंने कहा कि उनका घर यमुना विहार में है जो इसी जिले में पड़ता है. फेसबुक और ट्विटर पर लोगों की परेशानी सुनकर वह वहां पहुंचे थे. कपिल ने कहा कि सड़क बंद होने की वजह से आम लोगों को निकलने में दिक्कत हो रही थी. साथ ही ऐम्बुलेंस , स्कूल जा रहे बच्चे भी परेशान थे.