दिल्ली: वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कैदियों से मिल सकेगा परिवार, तिहाड़ समेत इन जेलों में चल रही तैयारी

जेल महानिदेशक संदीप गोयल भी इस बात की पुष्टि कर चुके हैं कि तिहाड़ में कैदियों (Prisoners) को जल्द ही वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग की सुविधा होगी. यह एक सप्ताह या 10 दिनों के भीतर चालू हो सकती है.

COVID-19 संक्रमण के खतरे को ध्यान में रखते हुए, कैदियों (Prisoners) से उनके परिवार की मुलाकात वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग की जरिए कराने की तैयारी तिहाड़ जेल (Tihar Jail) समेत दिल्ली की 16 उपजेलों में चल रही है.

हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक वरिष्ठ जेल अधिकारियों ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि तिहाड़, रोहिणी और मंडोली जेल परिसर में सभी 16 उप जेलों में कैदियों और उनके परिवारों के बीच वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग की सुविधा के लिए कंप्यूटर स्टेशन लगाए जा रहे हैं.

जेल महानिदेशक संदीप गोयल भी इस बात की पुष्टि कर चुके हैं कि तिहाड़ में कैदियों को जल्द ही वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग की सुविधा होगी. “यह एक सप्ताह या 10 दिनों के भीतर चालू हो सकती है.

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

महामारी के बाद भी, हम कई कैदियों के लिए इस सुविधा का उपयोग कर सकते हैं, जिनके शहर में उनके परिवार नहीं हैं. बता दें कि हाल ही में दिल्ली की इन जेलों से कोरोनावायरस संक्रमण के केस सामने आ चुके हैं.

दिल्ली में अब तक का कोरोना आंकड़ा

दिल्ली में 613 नए केस के साथ सोमवार तक कुल कोरोना केस की संख्या 1 लाख, 31 हजार, 219 हो गई। यहां बीते 24 घंटों में 26 मरीजों की मौत भी हुई और इसके साथ ही महामारी से मरने वालों की तादाद 3,853 हो चुकी है.

एक दिन पहले रविवार को राजधानी में संक्रमण के 1,075 नए मामले सामने आए थे. दिल्ली में फिलहाल 10,994 मरीजों का इलाज चल रहा है. रविवार को इनकी संख्या 11,904 थी. दिल्ली में अब तक 1 लाख, 16 हजार, 372 मरीज इलीज के बाद ठीक हो चुके हैं.

Related Posts