दिल्ली का सबसे बड़ा अग्निकांड, सोते-सोते घुटा 43 लोगों का दम, हादसे की न्यायिक जांच के आदेश

दमकल चीफ के मुताबिक यह दिल्ली में आज तक का सबसे बड़ा रेस्क्यू ऑपरेशन है. बताया जा रहा है कि अंदर अभी और लोग भी फंसे हो सकते हैं, क्योंकि जिस समय ये आग लगी उस समय बड़ी संख्या में लेबर कारखाने में ही सो रही थी.

दिल्ली के रानी झांसी रोड पर स्थित अनाज मंडी में रविवार सुबह तीन कारखानों में आग लग गई थी. जिसमें 43 लोगों की मौत हो गई और 15 से 16 लोग घायल हैं. बताया जा रहा है कि अभी भी लाशों को निकालने का सिलसिला जारी है. इन कारखानों में जैकेट, बैग, गद्दे बनाने और उनपर छपाई का कमा होता है.

जानकारी के मुताबिक आग रविवार तड़के 4 बजे लगी है. आग इतनी बड़ी थी कि इसे काबू करने के लिए दमकल की करीब 35 से ज्यादा गाड़ियों को जुटना पड़ा.

delhi fire in three factories, दिल्ली का सबसे बड़ा अग्निकांड, सोते-सोते घुटा 43 लोगों का दम, हादसे की न्यायिक जांच के आदेश

 

दिल्ली अग्निकांड की हर छोटी-बड़ी खबरों को जानने के लिए पढ़ें टीवी9 भारतवर्ष के LIVE अपडेट्स.

  • बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी दिल्ली अग्निकांड के पीड़ितों को 2-2 लाख रुपए मुआवजा देने की घोषणा की है.
  • घटनास्थल पर जांच के लिए पहुंची फोरेंसिक टीम.
  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मरने वालों के परिवार को प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष में से  2-2 लाख रुपए का मुआवजा देने की घोषणा की है.

  • पुलिस के मुताबिक फैक्ट्री के तीन मालिक हैं. उनके नाम हैं रेहान, शान और इमरान. तीनों ही फरार हैं. पुलिस इन तीनों की तलाश में जुटी है.
  • रेस्क्यू ऑपरेशन खत्म हो गया है. केस क्राइम ब्रांच को ट्रांसफर कर दिया गया है. फोरेंसिक टीम भी करेगी बिल्डिंग की जांच. हालांकि बिल्डिंग अभी गर्म है. शुरुआती जांच में शार्ट सर्किट को ही आग लगने का कारण माना जा रहा है. पुलिस मालिकों की तलाश में जुटी है.
  • मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल भी हादसे वाली जगह पर पहुंच गए हैं. उन्होंने मीडिया से बात करते हुए कहा कि दिल्ली सरकार मृतकों के परिजनों को 10 लाख और घायलों को 1 लाख रुपए की साहयता राशी देगी. घायलों के इलाज का खर्च भी दिल्ली सरकार ही उठाएगी. साथ ही उन्होंने इस हादसे की न्यायिक जांच के आदेश भी दिए हैं.

delhi fire in three factories, दिल्ली का सबसे बड़ा अग्निकांड, सोते-सोते घुटा 43 लोगों का दम, हादसे की न्यायिक जांच के आदेश

  • दिल्ली बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी हादसे वाली जगह पर पहुंचे. जहां उन्होंने कहा कि हादसे में मरने वाले लोगों के परिजनोंं 5 लाख और घायलों के 25 हजार रुपए की आर्थिक मदद देगी बीजेपी.
  • राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने इस हादसे पर कहा कि आग लगने की दुखद खबर सुनकर बहुत पीड़ा हुई है. उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा, “दिल्ली की अनाज मंडी में आग लगने की दुखद खबर सुनकर बहुत पीड़ा हुई है. मेरी गहन संवेदना प्रभावित परिवारों के साथ हैं. मैं घायलों के जल्द स्वस्थ होने की कामना करता हूं. स्थानीय प्रशासन लोगों को बचाने और मदद मुहैया कराने की भरसक कोशिश कर रहा है.”

  • रेस्क्यू ऑपरेशन के दौरान दो फायर फाइटर भी घायल हो गए हैं.
  • उप-राज्यपाल अनिल बैजल हादसे वाली जगह पहुंचे.
  • थोड़ी देर में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल भी घटना स्थल पर पहुंच रहे हैं. केजरीवाल ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी है.

  • LNJP अस्पताल में 34, लेडी हार्डिंग अस्पताल में 9 लोगों की मौत
  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस घटना पर दुख प्रकट करते हुए ट्वीट किया है, उन्होंने लिखा, “रानी झाँसी रोड पर दिल्ली की अनाज मंडी में लगी आग बेहद भीषण है. मेरी संवेदना उन लोगों के साथ हैं जिन्होंने अपने प्रियजनों को खो दिया. घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं. अधिकारी घटना स्थल पर हर संभव सहायता प्रदान कर रहे हैं.”

  • मरने वालों में ज्यादार मजदूर बिहार के सासाराम के रहने वाले बताए जा रहे हैं.
  • दिल्ली पुलिस ने गैर इरादतन हत्या का मामला दर्ज किया है.
  • कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने इस घटना पर कहा कि आग लगने से कई लोगों की मौत और अनेक लोगों के घायल होने की खबर से आहत हूं. राहुल ने अपने ट्वीट में कहा, “दिल्ली के अनाज मंडी मे, भीषण आग लगने से कईयो की मौत और अनेक लोगों के घायल होने की खबर से आहत हूं. मृतकों के परिवार के प्रति मैं अपनी गहरी संवेदना व्यक्त करता हूं और घायलों के जल्द स्वस्थ होने की कामना करता हूं.”

  • गृह मंत्री अमित शाह ने दुख जताते हुए कहा कि संबंधित अधिकारियों को हर संभव सहायता देने के निर्देश दिए गए है. शाह ने ट्वीट कर कहा, “नई दिल्ली में हुए अग्निकांड हादसे में जान गंवाने वाले लोगों के परिवारों के साथ मेरी गहरी संवेदना, जिन्होंने अपने प्रियजनों को खो दिया है. मैं घायलों के जल्द स्वस्थ होने की प्रार्थना करता हूं. संबंधित अधिकारियों को तत्काल आधार पर सभी संभव सहायता प्रदान करने के निर्देश दिए गए हैं.”

  • दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने इस घटना पर ट्वीट कर दुख जताया है. उन्होंने ट्वीट कर कहा, “बहुत-बहुत दुखद खबर, बचाव अभियान चल रहा है. फायरमैन अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर रहे हैं. घायलों को अस्पतालों में ले जाया जा रहा है.”

  • दिल्ली फायर सर्विस के मुख्य अग्निशमन अधिकारी अतुल गर्ग ने बताया, “आग पर काबू पा लिया गया है. अभी तक 59 लोगों का रेस्क्यू किया गया है. कारखाने से पांच जले हुए शव निकाले गए हैं. आग बुझाने में दमकल की 35 से ज्यादा गाड़ियां जुटी, रेस्क्यू ऑपरेशन अभी भी जारी है. दमकल चीफ के मुताबिक यह दिल्ली में आज तक का सबसे बड़ा रेस्क्यू ऑपरेशन है.

delhi fire in three factories, दिल्ली का सबसे बड़ा अग्निकांड, सोते-सोते घुटा 43 लोगों का दम, हादसे की न्यायिक जांच के आदेश

  • बता दें कि बचाए गए लोगों की हालत गंभीर है, दम घुटने की वजह से इन लोगों की स्थिति नाजुक बनी हुई है. इन सभी को अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है.
  • जिस समय आग लगी उस समय बड़ी संख्या में मजदूर कारखाने में ही सो रहे थे . आधिकारियों ने बताया की यह इलाका बहुत ही संकरा है. तीनों कारखाने इंटरकनेक्ट हैं और सभी 6 मंजिल ऊंचे हैं.

ये भी पढ़ें :

अब व्हाट्सएप में भी होगा कॉल वेटिंग का ऑप्शन, जानें कैसे कर सकते हैं यूज

उन्नाव गैंगेरप-मर्डर LIVE: पीड़िता के पिता की मांग, अंतिम संस्कार से पहले आएं सीएम योगी आदित्यनाथ