Delhi Violence के आरोपी फैजल फारूकी की जमानत पर लगी रोक हटी, HC में केंद्र-दिल्ली सरकार के बीच टकराव

दिल्ली हाईकोर्ट (Delhi HC) ने ये फैसला आरोपी की जमानत पर सुनवाई के दौरान पुलिस (Delhi Police) की पैरवी करने को लेकर दिल्ली और केंद्र सरकार के वकीलों के बीच हुई तीखी बहस के बाद लिया है.
Delhi Violence accused Faizal Farooqui stays bail, Delhi Violence के आरोपी फैजल फारूकी की जमानत पर लगी रोक हटी, HC में केंद्र-दिल्ली सरकार के बीच टकराव

दिल्ली हाईकोर्ट (Delhi HC) ने दिल्ली हिंसा मामले (Delhi Violence) में आरोपी फैजल फारूकी (Faizal Farooqui) की जमानत पर लगी रोक को हटाया, केंद्र और दिल्ली सरकार के बीच टकराव के बाद हटी रोक.

नॉर्थ-ईस्ट दिल्ली हिंसा (Northeast Violence) मामले में आरोपी निजी स्कूल के मालिक फैजल फारूकी को कड़कड़डूमा कोर्ट से मिली जमानत पर लगी रोक को दिल्ली हाईकोर्ट ने हटा दिया है.

दिल्ली हाईकोर्ट ने ये फैसला आरोपी की जमानत पर सुनवाई के दौरान पुलिस की पैरवी करने को लेकर दिल्ली और केंद्र सरकार के वकीलों के बीच हुई तीखी बहस के बाद लिया है.

देखिये #अड़ी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर शाम 6 बजे

दिल्ली पुलिस की पैरवी को लेकर हुई तीखी बहस

दरअसल वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए सुनवाई के दौरान कोर्ट के सामने दिल्ली पुलिस की पैरवी कौन करेगा इसको लेकर केंद्र सरकार के वकील ASG अमन लेखी और दिल्ली सरकार के स्टेंडिंग काउंसिल राहुल मेहरा में तीखी बहस हो गई.

राहुल मेहरा का कहना था कि दिल्ली पुलिस (Delhi Police) के मामलों में वो ही कोर्ट में पेश होते हैं और जरूरी दस्तावेज पेश करते हैं, नियमानुसार ऐसा ही चलता आ रहा है, अगर इसके अतिरिक्त कोई और ऐसा करेगा, तो वो वैधानिक तौर पर मान्य नहीं होगा.

बहस से नाराज हुए जज

कोर्ट के सामने हुई बहस पर जस्टिस सुरेश कैत ने नाजारगी जताते हुए कहा कि इस मामले में दिल्ली पुलिस की दलीलें कौन पेश करेगा इसे लेकर सुनवाई के पहले दिन यानी 22 जून से ही केन्द्र और दिल्ली सरकार के बीच मतभेद चल रहा है. ऐसे में जबतक आरोपी की जमानत पर रोक जारी रहेगी मतभेद भी बना रहेगा.

कोर्ट का आदेश

इसी टिप्पणी के साथ कोर्ट ने आरोपी स्कूल मालिक फैसल फारूक को जेल से रिहा करने के निचली अदालत के फैसले पर लगाई अंतरिम रोक के अपने 22 जून के आदेश को वापस ले लिया.

कोर्ट ने केंद्र और दिल्ली सरकार के वकीलों से कहा है कि वे लिखित में दलील पेश करें कि इसमें दिल्ली पुलिस का पक्ष कौन रखेगा? कोर्ट मामले की अगली सुनवाई 22 जुलाई को करेगी.

देखिए NewsTop9 टीवी 9 भारतवर्ष पर रोज सुबह शाम 7 बजे

Related Posts