Delhi Violence: लड़की की शादी में दंगाइयों ने डाला खलल, लाखों का हुआ नुकसान

इस दौरान दंगाइयों ने उस घर पर हमला बोल दिया जहां शादी के लिए मिठाइयां बन रही थीं. इतना ही नहीं बलवाइयों ने हलवाई को पीटा और घर में पेट्रोल बम मारकर पूरे घर को आग के हवाले कर दिया.
Delhi Violence rioters disrupt marriage of girl, Delhi Violence: लड़की की शादी में दंगाइयों ने डाला खलल, लाखों का हुआ नुकसान

दिल्ली हिंसा में कितने लोगों के आशियाने उजड़ गए कितनों की रोजी-रोटी के साधन बर्बाद हो गए. ऐसा ही कुछ चांदबाग के एक परिवार के साथ भी हुआ जहां उनकी बेटी की शादी की तैयारियों में दंगाइयों ने खलल डाल दिया. हिंसा की वजह से इस परिवार का लाखों का नुकसान हो गया.

यह कहानी है दिल्ली के चांदबाग इलाके में ताहिर हुसैन के घर के बराबर में रहने वाले लोकेंद्र बालियान की जो कि दिल्ली पुलिस में हेड कांस्टेबल के पद पर तैनात हैं. 25 फरवरी को लोकेंद्र की बेटी शिवानी की शादी थी और 24 फरवरी को लोकेंद्र बागपत के बड़ौत में लड़के वालों के यहां तिलक चढ़ाने गए हुए थे. मगर उन्हें क्या पता था कि उसी दिन दिल्ली जल उठेगी.

इस दौरान दंगाइयों ने उस घर पर हमला बोल दिया जहां शादी के लिए मिठाइयां बन रही थीं. इतना ही नहीं बलवाइयों ने हलवाई को पीटा और घर में पेट्रोल बम मारकर पूरे घर को आग के हवाले कर दिया. घटना की जानकारी जब लोकेंद्र को मिली तो वे जैसे-तैसे तिलक चढ़ा कर उल्टे पांव बिना खाना खाए दिल्ली वापस लौट आए.

लोकेंद्र ने आकर देखा तो सब कुछ तहस-नहस हो चुका था. दंगाइयों से बचते-बचाते कई किलोमीटर पैदल चलकर जब वे उस घर में पहुंचे तो देखा कि बारातियों के लिए बनी मिठाई जल गईं. अगले दिन शादी थी अब न इतना समय था और न ही पैसे कि यब सब दोबारा तैयार किया जा सके.

लड़के वालों ने बारात लाने से किया इन्कार

लोकेंद्र और उनका परिवार इस सदमे से उभर भी नहीं पाए थे कि इस बीच दिल्ली के बिगड़ते हालात को देखते हुए लड़के वालों ने बारात लाने इन्कार कर दिया. लेकिन किसी तरह से उन्होंने बारातियों को मनाया और और जैसे-तैसे शादी की औपचारिकताएं पूरी की गईं. 1200 लोगों के इंतजाम वाली शादी में महज 40 लोग ही पहुंचे और बिना किसी रौनक के शादी के सभी रस्मों को पूरा किया.

ये भी पढ़ें:

Delhi Violence: दिसंबर से लगी थी आग… और पुलिस की नाकामी

Related Posts