Delhi Violence, Delhi Violence: कहां तुम चले गए….! सामने कफन में लिपटे पिता की बंद आंखों से सवाल करता मासूम
Delhi Violence, Delhi Violence: कहां तुम चले गए….! सामने कफन में लिपटे पिता की बंद आंखों से सवाल करता मासूम

Delhi Violence: कहां तुम चले गए….! सामने कफन में लिपटे पिता की बंद आंखों से सवाल करता मासूम

वो सोच रहा है कि कौन होंगे वो जिन्होंने उसे अनाथ कर दिया. वो सोच रहा है कि उसके पिता का क्या दोष था. वो सोच रहा है कि ख़ुदा ने उसको किस गुनाह की सजा दी होगी....
Delhi Violence, Delhi Violence: कहां तुम चले गए….! सामने कफन में लिपटे पिता की बंद आंखों से सवाल करता मासूम

तस्वीरें बहुत कुछ बयां करती हैं. ये आपको कभी खुशी देती हैं तो कभी ग़म. ये तस्वीरें हमें झकझोर देती हैं. कभी ये गुज़रा हुआ कल याद दिलाती हैं तो कभी उम्मीद का चराग जलाती हैं. हमने भी दिल्ली की बहुत सारी तस्वीरें यादों में संजों कर रखी थी. इन तस्वीरों को देखकर कभी मुस्करा लेते थे तो कभी आंखें नम कर लेते थे. जब भी दोस्तों के साथ बैठकर दिल्ली का जिक्र होता था तो झट से मोबाइल फोन निकालकर तस्वीरें खंगालना शुरू कर देते थे…मगर अब मेरी दिल्ली की सूरत बदल सी गई है.

सोशल मीडिया में यूं तो दिल्ली दंगे से जुड़ी सैकड़ों तस्वीरें वायरल हो रही हैं. ऐसी तस्वीरें जिनको देखकर आंसुओं को रोकना बहुत मुश्किल है. एक मासूम बच्चा अपने पिता को कफन में लिपटा हुआ देख रहा है. उसके बगल में उसकी बहन और पीछे उसकी मां बिलख रही है. ये मासूम आंसुओं का सैलाब लिए टकटकी लगाए अपने पिता की लाश देख रहा है. वो सोच रहा है कि उसके पिता अब कभी उसको कंधे पर बैठाकर नहीं घुमाएंगे. वो सोच रहा है कि अब वो मां के डांटने पर किसके पास जाकर छिपेगा. वो सोच रहा है कि अब उसकी जिद्द कौन पूरी करेगा. वो सोच रहा है कि अब वो पापा पापा कहकर किसको आवाज देगा.

वो सोच रहा है कि कौन होंगे वो जिन्होंने उसे अनाथ कर दिया. वो सोच रहा है कि उसके पिता का क्या दोष था. वो सोच रहा है कि ख़ुदा ने उसको किस गुनाह की सजा दी होगी….वो बच्चा शायद इन सबसे बहुत ज्यादा सोच रहा होगा. सामने पड़ी पिता की लाश और चारों ओर रोने की आवाज शायद आज वो लोग नहीं सुन पाएंगे जिन्होंने इस बच्चे के सिर से पिता का साया हमेशा के लिए मिटा दिया…मिटा दिए उसके खिलौने…छीन लिया एक मासूम का बचपन.

इस फोटो को शेयर करते हुए बॉलीवुड प्रोड्यूसर अतुल कास्बेकर (Atul Kasbekar) ने ट्वीट भी किया है, जिसमें उन्होंने कहा कि यह तस्वीर दिल तोड़ने वाली है. अपने ट्वीट में अतुल ने लिखा, “इस तस्वीर ने मेरा दिल तोड़ दिया है. और अगर यह लड़का गुस्से की भावना के साथ बड़ा होता है और प्रतिशोध की मांग करता है तो उसे कौन दोषी ठहरा सकता है? पागलपन का यह चक्र हमेशा चलता रहेगा. और अगर आपके भगवान और उनके सिद्धांत इसे उचित ठहराते हैं तो यह समय प्रार्थना को रोकने का है.”

भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी ज्वाला खिलाड़ी ने भी इस तस्वीर पर कमेंट किया है.

Delhi Violence, Delhi Violence: कहां तुम चले गए….! सामने कफन में लिपटे पिता की बंद आंखों से सवाल करता मासूम
Delhi Violence, Delhi Violence: कहां तुम चले गए….! सामने कफन में लिपटे पिता की बंद आंखों से सवाल करता मासूम

Related Posts

Delhi Violence, Delhi Violence: कहां तुम चले गए….! सामने कफन में लिपटे पिता की बंद आंखों से सवाल करता मासूम
Delhi Violence, Delhi Violence: कहां तुम चले गए….! सामने कफन में लिपटे पिता की बंद आंखों से सवाल करता मासूम