अगले 32 घंटे दिल्ली पर भारी, देखें उफनती यमुना कैसे फैला रही दहशत

दिल्‍ली पर अगले 32 घंटे बेहद भारी बताए जा रहे हैं. यमुना के आस-पास के इलाकों को खाली करा लिया गया है.

हरियाणा के हथिनीकुंड बैराज से यमुना में लगातार पानी छोड़े जाने से दिल्‍ली में बाढ़ का खतरा पैदा हो गया है. यमुना का जलस्‍तर खतरे के निशान के करीब है. यमुना के बढ़ते जलस्तर को देखते हुए ईस्ट दिल्ली में 14 पॉइंट ऐसे बनाए गए है जहां निचले इलाके में रहने वाले लोगों को रेस्क्यू करवा कर रखा गया है. यहां लोगों को प्रशासन की तरफ से खाना दिया जा रहा है.

दिल्‍ली पर अगले 32 घंटे बेहद भारी बताए जा रहे हैं. यमुना के आस-पास के इलाकों को खाली करा लिया गया है. लोहा पुल इलाके में लोगों ने अस्‍थायी नाव बनाकर सामान समेटना शुरू कर दिया है.

रविवार शाम 6 बजे 8 लाख क्‍यूसेक पानी छोड़ा गया था जो 72 घंटे बाद दिल्‍ली पहुंचेगा. वहीं सोमवार सुबह ढाई लाख क्‍यूसेक पानी और छोड़ा गया. सोमवार सुबह वॉटर लेवल 204.42 मीटर देखा गया. हरियाणा का पानी जब दिल्‍ली पहुंचेगा तो यहां बाढ़ का खतरा पैदा हो सकता है.

यमुना के बढ़ते जलस्तर को देखते हुए प्रशासन की तरफ के ठोस कदम उठाए जा रहे हैं. एसडीएम ईस्ट राजीव त्यागी के मुताबिक, ईस्ट दिल्ली में 365 टेंट लगाए गए हैं और 1075 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर लाया गया है.

ये भी पढ़ें

भारी बारिश के बाद 30 लोगों की मौत, उत्तर भारत में बाढ़ जैसे हालात, दिल्ली पर भी संकट के बादल

कोलकाता में उड़ानें रद्द, भाखड़ा बांध से छोड़ा गया 63 हजार क्यूसेक पानी; पंजाब में अलर्ट