शोपियां: मुठभेड़ में मारे गए लोगों के DNA उनके परिवारों से मिले- IG कश्मीर पुलिस

जम्मू एवं कश्मीर (Jammu And Kashmir) पुलिस और सेना ने परिवार की शिकायत के बाद जांच शुरू की थी. दरअसल परिवार ने दावा किया था कि उनके बच्चे लापता हो गए हैं और इसके बाद सोशल मीडिया पर उनके मुठभेड़ में मारे जाने को लेकर तस्वीर सामने आईं.

कश्मीर पुलिस IG विजय कुमार
कश्मीर पुलिस IG विजय कुमार

कश्मीर के पुलिस महानिरीक्षक विजय कुमार ने शुक्रवार को कहा कि दक्षिण कश्मीर के शोपियां (Shopian) जिले में 18 जुलाई को मुठभेड़ में मारे गए लोगों के DNA सैंपल उनके परिवार के सदस्यों से मैच कर गए हैं. शोपियां के अम्सीपोरा में मुठभेड़ की घटना हुई थी. ऐसे में श्रीनगर (Srinagar) में प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए, IG विजय कुमार (IG Vijay Kumar) ने कहा कि मामले में आगे की जांच चल रही है.

उन्होंने कहा, “हमने रजौरी के तीन परिवारों के DNA सैंपल प्राप्त किए और ये सैंपल अम्सीपोरा शोपियां में मारे गए लोगों से मैच करते हैं.” अभियान के दौरान सुरक्षाबलों ने रजौरी जिले में मोहम्मद इबरार, अबरार अहमद, इम्तियाज अहमद को मार गिराया था. बाद में सेना की जांच से पता चला था कि मुठभेड़ के दौरान सुरक्षाबल ने AFSPA (Armed Forces Special Power Act) के तहत अपनी शक्तियों का दुरुपयोग किया था.

परिवार ने लगाया था सेना पर झूठे एनकाउंटर का आरोप

जम्मू एवं कश्मीर (Jammu And Kashmir) पुलिस और सेना ने परिवार की शिकायत के बाद जांच शुरू की थी. दरअसल परिवार ने दावा किया था कि उनके बच्चे लापता हो गए हैं और इसके बाद सोशल मीडिया पर उनके मुठभेड़ में मारे जाने को लेकर तस्वीर सामने आईं.

तीनों मृतकों के परिजनों ने सेना पर आरोप लगाते हुए कहा था कि उन्हें झूठे एनकाउंटर में मारा गया है. इसके बाद सेना ने जांच की और AFSPA के उल्लंघन का मामला सामने आया. इससे पहले मृतकों के परिजनों ने DNA रिपोर्ट में हो रही देरी को लेकर केंद्र शासित प्रदेश के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा को पत्र लिखा था.

चीन ने मानी 5 सैनिक मारे जाने की बात, अधिकारी बोले- 3 गुना होगी संख्या

Related Posts