दिल्ली में शख्स ने की डॉक्टर और डिस्पेंसरी कर्मचारियों की पिटाई, कोविड-19 की झूठी रिपोर्ट का आरोप

कोरोनावायरस (Coronavirus) की टेस्ट रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद आरोपी ने दिल्ली के एक अन्य सरकारी अस्पताल में फिर से टेस्ट कराया. रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद उसने डिस्पेंसरी के कर्मचारियों और डॉक्टर की पिटाई की.

  • TV9 Hindi
  • Publish Date - 3:13 pm, Wed, 14 October 20
कोविड-19 टेस्ट (File Pic)

दिल्ली सरकार (Delhi Government) की डिस्पेंसरी में डॉक्टर समेत मेडिकल स्टाफ (Medical Staff) के साथ मारपीट का एक मामला सामने आया है. दिल्ली के रहने वाले एक शख्स ने झूठी कोरोनोवायरस टेस्ट रिपोर्ट देने का आरोप लगाकर एक डॉक्टर और डिस्पेंसरी के अन्य कर्मचारियों की पिटाई की.

पूर्वी दिल्ली (East Delhi) के जगतपुरी इलाके की इस घटना के बाद पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है. कोरोनावायरस (Coronavirus) की टेस्ट रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद आरोपी ने दिल्ली के एक अन्य सरकारी अस्पताल में फिर से टेस्ट कराया.

ये भी पढ़ें-चीन का प्लान, विदेश जाने वाले छात्रों को देगा कोविड-19 की ट्रायल पर चल रही वैक्सीन की डोज

दूसरे अस्पताल में कोरोनावायरस की रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद आरोपी नाराज हो गया. वो डिस्पेंसरी पहुंचा और वहां के कर्मचारियों पर जानबूझकर झूठी रिपोर्ट बनाने का आरोप लगाया. आरोप है कि उसके बाद उसने डॉक्टर के साथ अन्य मेडिकल स्टाफ की भी पिटाई की.

शिकायत के आधार पर पुलिस ने किया मामला दर्ज

स्थानीय लोगों ने डिस्पेंसरी पहुंचकर डॉक्टर और मेडिकल स्टाफ को बचाया. पुलिस ने डिस्पेंसरी के प्रभारी और चिकित्सा अधिकारी डॉ. रीना सहगल की शिकायत पर मामला दर्ज कर लिया है. पुलिस में दी गई शिकायत में कहा गया है जब डॉक्टर ने विरोध किया तो उसने स्टाफ पर झूठी रिपोर्ट प्रस्तुत करने का आरोप लगाकर बदसलूकी की.

आरोपी ने डॉक्टर से कहा कि उसने कड़कड़डूमा के डॉ. हेडगेवार अस्पताल में दूसरा टेस्ट किया है जिसमें उसकी रिपोर्ट निगेटिव आई है. शिकायत में आरोप लगाया गया है कि आरोपी ने डॉक्टर और डिस्पेंसरी कर्मियों की पिटाई की. वहीं डॉक्टर ने कहा है कि आरोपी ने अपनी दूसरी रिपोर्ट नहीं दिखाई. पुलिस ने कहा कि उन्होंने घटना की जांच शुरू कर दी है. आरोपियों की पहचान कर सीसीटीवी के ज़रिए उनकी तलाश की जा रही है.

ये भी पढ़ें-पांच हफ्तों से लगातार कम हो रहे एक्टिव केस, अब तक 62 लाख ठीक : स्वास्थ्य मंत्रालय