दिल्ली: अस्पतालों की मनमानी पर पॉल्यूशन बोर्ड सख्त, 12 अस्पतालों को बंद करने का दिया आदेश

इन अस्पतालों ने मेडिकल वेस्ट ट्रीटमेंट करने के लिए DPCC (दिल्ली पॉल्यूशन कंट्रोल कमिटी) से ऑथराइजेशन नहीं लिया था.

नई दिल्ली: मेडिकल वेस्ट को लेकर अस्पतालों की मनमानी किसी से छिपी नहीं है. ऐसा ही एक मामला दिल्ली में देखने को मिला है. अस्पतालों की इस मनमानी को लेकर दिल्ली पॉल्यूशन कंट्रोल कमेटी (DPCC) ने 12 अस्पतालों को बंद करने का आदेश दिया है. निर्देश के मुताबिक मरीजों को दूसरी जगह शिफ्ट करने के लिए 30 जून तक का समय दिया गया है.

इन अस्पतालों को बंद करने का दिया आदेश

  • जेएमसी हॉस्पिटल, करोल बाग
  • जन कल्याण हॉस्पिटल, खजूरी खास
  • आस्था मेडिकल सेंटर, लाजपत नगर
  • ऑरेंज ट्री एस्थेटिक रिस्टोरेशन सेंटर, लाजपत नगर
  • एसबी हेल्थकेयर, अबु फ़ज़ल एंक्लेव
  • फराज हॉस्पिटल, जामिया नगर
  • अबिदिन मेडिकल सेंटर, जामिया नगर
  • मौजीराम लॉयन्स आई हॉस्पिटल, बख्तावर पुर
  • भारद्वाज हॉस्पिटल, बुद्ध विहार
  • ओम शिव शक्ति मान नर्सिंग होम, किराड़ी
  • मेडिकेयर हॉस्पिटल, अबु फ़ज़ल एंक्लेव
  • इक़बाल फेरी मेडिकल सेंटर, जामिया नगर

इस मामले पर दिल्ली सरकार में पर्यावरण मंत्री इमरान हुसैन ने टीवी9 भारतवर्ष से बात करते हुए कहा, ‘जिन 12 अस्पतालों को बंद करने का नोटिस जारी हुआ है, उन्हें पहले भी कई बार नोटिस जारी किए गए थे, इसके बावजूद अस्पताल प्रबंधन ने बायो-वेस्ट को लेकर उचित कदम नहीं उठाए. ऐसे में क्लोज़र नोटिस जारी होने के बाद ये अस्पताल हमारे पास ऑथराइजेशन लेने आ रहे हैं.’

इन अस्पतालों ने मेडिकल वेस्ट ट्रीटमेंट करने के लिए DPCC (दिल्ली पॉल्यूशन कंट्रोल कमिटी) से ऑथराइजेशन नहीं लिया था. ऐसे में इन पर कार्रवाही की गई है. डीपीसीसी ने ऐसे कुल 56 संस्थानों को चिन्हित किया है. जिनपर भविष्य में कार्रवाई की जा सकती है.