आतंकी संगठनों में जा रहे घाटी के युवाओं की संख्या में कमी, बौखलाए पाकिस्तान ने बढ़ाई घुसपैठ की कोशिशें

जम्मू कश्मीर के युवाओं से जुड़ी एक राहत देनेवाली खबर आई है. पता चला है कि आतंकी संगठनों में शामिल होने वाले युवाओं की संख्या में तेजी से गिरावट आई है. इससे बौखलाए पाकिस्तान के आतंकी संगठन लगातार घुसपैठ की कोशिश कर रहे हैं.

terrorist infiltration
जम्मू कश्मीर में घुसपैठ की कोशिशों को नाकाम कर रहे जवान (सांकेतिक फोटो)

जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) के युवाओं से जुड़ी एक राहत देनेवाली खबर आई है. पता चला है कि आतंकी संगठनों में शामिल होने वाले युवाओं की संख्या में तेजी से गिरावट आई है. इससे बौखलाए पाकिस्तान के आतंकी संगठन लगातार घुसपैठ की कोशिश कर रहे हैं. इधर पड़ोसी देश की तरफ से होनेवाली घुसपैठ की कोशिशों को सुरक्षा बल के जवान लगातार नाकाम कर रहे हैं.

बताया गया है कि जहां 2019 में 120 ऐसे कश्मीरी युवा थे जो आतंकी बने (Local Rect Terrorist) फिर मारे गए या पकड़े गए. वहीं 2020 में अबतक 93 ऐसे मामले सामने आए हैं. आतंकियों की बात करें तो 2020 में 2 अक्टूबर तक 182 आतंकियों का खात्मा हो चुका है वहीं 2019 में 152 आतंकी मारे गए थे.

पत्थरबाजी में भारी गिरावट

जम्मू कश्मीर में साल 2020 में पत्थरबाजी और प्रदर्शन की घटनाओं में भी भारी गिरावट आई है. साल 2019 में ऐसे 922 मामले सामने आए थे. वहीं 2020 में अबतक सिर्फ 202 ऐसे मामले सामने आए हैं. हालांकि, इसके पीछे कोरोनावायरस महामारी भी एक बड़ी वजह हो सकता है.

पढ़ें – “नीतीश जी होशियार, अब आप रडार पर” महबूबा मुफ्ती की रिहाई पर और क्या बोले राजनेता

पीओके स्थित लॉन्च पैड्स पर आतंकी बढ़े

यह भी जानकारी मिली है कि पाकिस्तान ने अधिकृत कश्मीर (पीओके) में जो आतंकियों के लॉन्च पैड बनाए हुए हैं वहां आतंकियों की संख्या में लगातार वृद्धि हो रही है. 2020 में कश्मीर के सामने पीओके में स्थित लॉन्च पैड्स पर 314-350 आतंकी मौजूद हैं जो भारत में घुसपैठ करना चाहते हैं. वहीं साल 2019 में इनकी संख्या 320 के करीब थी. वहीं जम्मू के सामने पीओके की तरफ लॉन्च पैड्स में 206 तक आतंकी थे जिनकी संख्या अब 260 के पार है.

आंकड़े बताते हैं कि साल 2019 में पाकिस्तानी आतंकियों की तरफ से 10 बार घुसपैठ की कोशिश हुई थी. सभी बार उसे नाकाम किया गया था. वहीं साल 2020 में अबतक 9 बार घुसपैठ की कोशिश हुई है. इसमें से 5 बार आतंकियों को मार गिराया गया वहीं हाकी बार आतंकी वापस पाकिस्तान भाग गए.

पढ़ें – ये ऑटो नहीं है किसी मिनी गार्डन से कम, इसमें रहते हैं खरगोश, मछलियां और कई चिड़ियाएं

Related Posts