दिल्ली: कोरोना के चलते लोगों में मची अफरा-तफरी, घरों में स्टोर कर रहे हैं ऑक्सीजन सिलेंडर

लोग अफ़रा-तफ़री में ऑक्सीजन सिलेंडर तो खरीद रहे हैं, लेकिन मरीज को ऑक्सीजन लगाने की जरूरत और सिलेंडर के इस्तेमाल के बारे में उन्हें जानकारी नहीं थी. इसके लिए अब दुकानदार ही उन्हें इस्तेमाल का तरीका डेमो देकर समझा रहे हैं.
oxygen cylinders in homes, दिल्ली: कोरोना के चलते लोगों में मची अफरा-तफरी, घरों में स्टोर कर रहे हैं ऑक्सीजन सिलेंडर

दिल्ली में अचानक ऑक्सीजन सिलेंडर की मांग बढ़ गई है, इतना ही नहीं मांग के साथ-साथ दाम में बढ़ोतरी हो गई है. देश में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं, ऐसे में दिल्ली में कोरोना के बढ़ते मामलों के साथ ही ऑक्सीजन सिलेंडर की कीमत और मांग में तकरीबन 60 फीसदी की तेजी आ गई है.

देखिये परवाह देश की सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 10 बजे

हाल ही में मरीजों की बढ़ती तादाद को देखते हुए दिल्ली सरकार ने अपने सभी कोरोना अस्पतालों के बेड ऑक्सीजन युक्त बनाने का फैसला लिया है. ऑक्सीजन बेड की बढ़ी हुई मांग को देखते हुए दिल्ली सरकार ने यह आदेश जारी किया है. इससे अस्पतालों में तो ऑक्सीजन सिलेंडर की मांग बढ़ ही रही है, घर पर रहकर इलाज करवा रहे मरीजों के लिए भी ऑक्सीजन सिलेंडर खरीदे जा रहे हैं. हालात ऐसे हैं कि ऑक्सीजन सिलेंडर के दाम पहले से डेढ़ गुना तक बढ़ गए हैं.

हर मरीज को नहीं होती है ऑक्सीजन सिलेंडर की जरूरत

ऑक्सीजन सिलेंडर की कीमत बढ़ने के साथ-साथ सिलेंडर रिफिलिंग करवाने के लिए भी वेटिंग चल रही है, जिससे अलग-अलग आकार और स्टोरेज क्षमता के सिलेंडर के साथ-साथ ऑक्सीजन मशीन की भी डिमांड बढ़ गई है. कोरोना से लोग इतने भयभीत हैं कि बिना डॉक्टर की सलाह और जरूरत के भी इमरजेंसी के लिए ऑक्सीजन सिलेंडर लेकर घरों में रख रहे हैं.

लोग अफ़रा-तफ़री में ऑक्सीजन सिलेंडर तो खरीद रहे हैं, लेकिन मरीज को ऑक्सीजन लगाने की जरूरत और सिलेंडर के इस्तेमाल के बारे में उन्हें जानकारी नहीं थी. इसके लिए अब दुकानदार ही उन्हें इस्तेमाल का तरीका डेमो देकर समझा रहे हैं. सीनियर डॉक्टर अनिल गोयल का मानना है किसी भी मरीज को ऑक्सीजन देने की ज़रूरत तभी है जब उसके शरीर में ऑक्सीजन की मात्रा 94/95 से कम आ जाए, हालांकि ये बात भी मरीज की स्थिति और क‌ई परिस्थितियों पर निर्भर करती है.

बढ़ सकती है ऑक्सीजन सिलेंडर की कालाबाजारी

डॉक्टर गोयल को डर है कि आम लोगों की तरफ से इस तरह की अफ़रा-तफ़री करने से ऑक्सीजन सिलेंडर की कालाबाजारी और जमाखोरी बढ़ सकती है, दिल्ली सरकार को इसपर ध्यान देना चाहिए. दूसरी तरफ ऑक्सीजन सिलेंडर कारोबारियों का कहना है मांग बढ़ी है, लेकिन सप्लाई पूरी है इसीलिए घबराने की जरूरत नहीं है. दिल्ली में अचानक बढ़ी ऑक्सीजन सिलेंडर की मांग और किल्लत पर हमने DGHS की DG का रुख जानना चाहा, लेकिन DG ने व्यस्तता का हवाला देकर टिप्पणी करने से इंकार कर दिया.

Related Posts