Cyclone Nisarga: महाराष्ट्र और गुजरात में रेड अलर्ट, 100 kmph की रफ्तार से चलेंगी हवाएं, जानें अहम बातें

निसर्ग के खतरे को देखते हुए केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) से वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए बातचीत की और स्थिति के बारे में जायजा लिया.
Due to Cyclone Nisarga Red alert in Maharashtra and Gujarat, Cyclone Nisarga: महाराष्ट्र और गुजरात में रेड अलर्ट, 100 kmph की रफ्तार से चलेंगी हवाएं, जानें अहम बातें

पश्चिम बंगाल और ओडिशा (Odisha) में तबाही मचाने वाले अम्फान (Amphan) के बाद अब चक्रवाती तूफान निसर्ग (Cyclone Nisarga) का खतरा महाराष्ट्र (Maharashtra), गुजरात (Gujarat) और उसके आस-पास के इलाकों पर मंडरा रहा है. भारतीय मौसम विभाग (IMD) ने निसर्ग को लेकर चेतावनी जारी की है. मौसम विभाग के अनुसार निसर्ग बुधवार को भारतीय क्षेत्र में प्रवेश कर सकता है.

अरब सागर में पैदा हुआ निसर्ग 4 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से उत्तर की ओर बढ़ रहा है. भारतीय मौसम विभाग के अनुसार महाराष्ट्र (Maharashtra) के रायगढ़ और दमन में हरिहरेश्वर के बीच इस तूफान के चलते 3 जून को भूस्खलन की संभावना है. आईएमडी ने तीन और चार जून के बीच महाराष्ट्र के पालघर, ठाणे, रायगढ़, धुले, नंदुरबार और नासिक के लिए रेड अलर्ट (Red Alert) जारी किया है.

देखिए NewsTop9 टीवी 9 भारतवर्ष पर रोज सुबह शाम 7 बजे

निसर्ग के खतरे को देखते हुए केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) से वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए बातचीत की और स्थिति के बारे में जायजा लिया. तूफान के खतरे को देखते हुए NDRF की 11 टीमों को संवेदनशील इलाकों में तैनात किया गया है.

गुजरात और दमन-दीव अलर्ट पर

गुजरात और दमन दीव को भी अलर्ट पर रहने को कहा गया है. दक्षिणी गुजरात के सूरत, नवसारी, वलसाड, डांग और भरूच के लिए अलर्ट जारी किया गया है. गुजरात में 11 जबकि दमन और दीव में 1-1 टीम को तैनात किया गया है. इसके अलावा SDRF की टीमों को भी अलर्ट पर रहने के लिए कहा गया है.

मौसम विभाग ने क्या कहा

मौसम विभाग ने कहा है कि 2 से 3 जून के बीच निसर्ग गंभीर तूफान का रूप ले लेगा, तटीय इलाकों में इसके चलते भारी बारिश की संभावना है. मौसम विभाग ने ताजा बुलेटिन में कहा है कि अगले पांच दिनों तक देश में लू चलने की संभावना नहीं है. उत्तर भारत में सामान्य से ज्यादा बारिश हो सकती है, वहीं मध्य और दक्षिण भारत में सामान्य बारिश का अनुमान है.

तूफान की स्पीड

मौसम विभाग ने कहा है कि निसर्ग तीन जून की शाम को रायगढ़ और दमन के तट से गुजरेगा इसकी रफ्तार लगभग 105 से 115 किलोमीटर के बीच होगी. वहीं 4 जून को इसकी स्पीड कम होकर 60-70 से 80 किलोमीटर प्रति घंटे की रह जाएगी. पिछले महीने ओडिशा और पश्चिम बंगाल में तबाही मचाने वाले अम्फान की रफ्तार 180 किलोमीटर प्रति घंटे की थी.

तूफान का प्रभाव

महाराष्ट्र और गुजरात के तटीय क्षेत्रों में तेज हवाएं चल सकती हैं साथ ही इस दौरान भारी बारिश होने की संभावना भी है. मछुआरों को इस वक्त समंदर में न उतरने की सलाह दी गई है. IMD निसर्ग पर बेहद करीब से नजर बनाए हुए है.

देखिये परवाह देश की सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 10 बजे

Related Posts