धुंध के कारण दिल्ली हवाईअड्डे से दूसरे शहरों को मोड़ी गईं 32 उड़ानें

विमानों के मार्ग बदले जाने के कारण हजारों यात्रियों को परेशानियों का सामना करना पड़ा. उन्हें अपनी यात्रा की योजना में दिक्कतें आईं.

दिल्ली हवाईअड्डे पर और आसपास के इलाकों में धुंध की मोटी चादर के कारण रविवार को दिल्ली कम से कम 32 उड़ानों को पास के शहरों के लिए मोड़ दिया गया. इनमें से ज्यादातर उड़ानें घरेलू थीं और हवाईअड्डा परिसर में कम दिखाई देने के कारण ये उतर नहीं सकीं.

दिल्ली हवाईअड्डे पर कार्यरत एक अधिकारी ने कहा, “थोड़ी देर पहले तक खराब मौसम के कारण 32 उड़ानों को दूसरी तरह मोड़ना पड़ा. प्रदूषण और खराब मौसम के कारण हवाईअड्डे पर कम दृश्यता है.”

विमानों के मार्ग बदले जाने के कारण हजारों यात्रियों को परेशानियों का सामना करना पड़ा. उन्हें अपनी यात्रा की योजना में दिक्कतें आईं.

अधिकारी ने कहा, “मौसम के जल्दी ठीक होने की उम्मीद है. हालात पहले से थोड़ा बेहतर हैं.”

दिल्ली हवाईअड्डे के ट्विटर हैंडल से कहा गया, “दिल्ली हवाईअड्डे पर कम दृश्यता के चलते उड़ान संचालन प्रभावित हुआ है. सभी सीएटी-2 अनुपालक पायलट्स ऑपरेट करने में सक्षम हैं. यात्रियों से अनुरोध है कि वे उड़ान की ताजा जानकारी के लिए एयलाइंस से संपर्क करें. असुविधा के लिए खेद है.”

गौरतलब है कि दिल्ली में बूंदा-बांदी के बावजूद प्रदूषण (Air polluation) कम होने का नाम नहीं ले रहा है. दिल्ली-NCR (Delhi NCR) के कई इलाकों में AQI लेवल 1000 के पार पहुंच गया है. दिल्ली के आनंद विहार में 1683 AQI पहुंचा. वहीं पटपड़गंज में 999 AQI रिकॉर्ड किया गया. वहीं सत्यवती कॉलेज इलाके में 961 रिकॉर्ड किया गया.

दिल्ली-एनसीआर में बारिश के बाद भी लोगों को प्रदूषण से कोई राहत नहीं मिली. शनिवार देर शाम दिल्ली और उसके आसपास कुछ हुई जगहों पर हुई बारिश के बावजूद प्रदूषण खतरनाक स्तर पर बना हुआ है. दिल्ली वालों के लिए रविवार सुबह दर्ज हुए एयर क्वालिटी इंडेक्स(AQI) के आंकड़े चिंता बढ़ाने वाले हैं.