EAM S Jaishankar to US Senator Lindsey Graham, ‘कश्मीर का मामला सुलझा लेगा लोकतंत्र, आप फिक्र न करें’ अमेरिकी सीनेटर को जयशंकर का करारा जवाब
EAM S Jaishankar to US Senator Lindsey Graham, ‘कश्मीर का मामला सुलझा लेगा लोकतंत्र, आप फिक्र न करें’ अमेरिकी सीनेटर को जयशंकर का करारा जवाब

‘कश्मीर का मामला सुलझा लेगा लोकतंत्र, आप फिक्र न करें’ अमेरिकी सीनेटर को जयशंकर का करारा जवाब

सीनेटर लिंडसे ग्राहम की ओर से कश्मीर के हालात पर चिंता जाहिर करने पर जयशंकर ने कहा, 'चिंता मत कीजिए. एक लोकतंत्र इसे सुलझा लेगा और आप जानते हैं कि वह लोकतंत्र कौन है?'
EAM S Jaishankar to US Senator Lindsey Graham, ‘कश्मीर का मामला सुलझा लेगा लोकतंत्र, आप फिक्र न करें’ अमेरिकी सीनेटर को जयशंकर का करारा जवाब

जर्मनी में जारी म्यूनिख सुरक्षा सम्मेलन में विदेश मंत्री एस जयशंकर ने अमेरिकी सीनेटर लिंडसे ग्राहम को कश्मीर के मसले पर करारा जवाब दिया. सीनेटर ग्राहम की ओर से कश्मीर के हालात पर चिंता जाहिर करने पर जयशंकर ने शुक्रवार को कहा, ‘चिंता मत कीजिए. एक लोकतंत्र इसे सुलझा लेगा और आप जानते हैं कि वह लोकतंत्र कौन है?’

इससे पहले लिंडसे ग्राहम ने कहा था कि कश्मीर से लौटने के बाद यह समझ नहीं पाया कि वहां लॉकडाउन का सिलसिला कब खत्म होगा? भारत और पाकिस्तान दोनों को तय करना होगा कि इस मुद्दे को जल्द ही सुलझा लिया जाए. म्यूनिख सुरक्षा सम्मेलन 14 फरवरी से शुरू हुआ है और 16 फरवरी तक चलेगा.

UN में अब 75 साल पहले वाली बात नहीं

विदेश मंत्री जयशंकर ने अपने जवाब में संयुक्त राष्ट्र को लेकर कहा कि इतिहास की तुलना में वह अब कम भरोसेमंद रह गया है. जब आप इसके बारे में सोचते हैं तो इसकी कम होती विश्वसनीयता से आपको हैरत नहीं होती. इस संस्था में अब वे बातें नहीं रही, जो उसमें 75 साल पहले थीं. साफ है कि इसके बदलाव के लिए बहुत कुछ किए जाने की जरूरत है.

ट्रंप की यात्रा को लेकर सीनेटरों ने लिखा था पत्र

इससे पहले अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की दो दिवसीय भारत यात्रा को लेकर अमेरिका के चार सीनेटरों क्रिस वैन होलेन, टॉड यंग, रिचर्ड जे डर्बिन और लिंडसे ग्राहम ने भारत में धार्मिक स्वतंत्रता और कश्मीर में मानवाधिकार की हालत पर रिपोर्ट की मांगी थी. इन सभी सीनेटरों ने 12 फरवरी को विदेश मंत्री माइक पोम्पियो को इसके लिए पत्र भी लिखा था. पत्र में कहा गया था कि कश्मीर में अभी भी सैकड़ों लोग हिरासत में हैं. भारत ने कश्मीर में अब तक का सबसे लंबा इंटरनेट शटडाउन लगाया हुआ है. प्रदेश के लगभग 70 लाख लोगों पर इसका असर पड़ा है.

दुनिया भर में फैल रहा है सकारात्मक राष्ट्रवाद

विदेश मंत्री ने इस सम्मेलन में राष्ट्रवाद से जुड़े एक सवाल पर कहा कि ऐसे कई देश हैं, जहां पर राष्ट्रवाद को लेकर ज्यादा मुखरता है. जो राष्ट्र ज्यादा राष्ट्रवादी दिखता है, वह कई बार कम बहुपक्षीय होता है. यह एक तथ्य है. उन्होंने कहा कि दुनिया में राष्ट्रवाद का बोलबाला है. अमेरिका, चीन समेत दुनिया के कई देशों का इस पर फोकस है. जाहिर है कि बड़े स्तर पर राष्ट्रवाद को स्वीकार्यता हासिल हुई है.

कश्मीर पर तुर्की के राष्ट्रपति को करारा जवाब

दूसरी ओर जयशंकर ने तुर्की के राष्ट्रपति रजब तैयब अर्दोआन के जम्मू कश्मीर को लेकर दिए बयान पर भी विदेश मंत्रालय की ओर से करारा जवाब दिया गया है. मंत्रालय ने कहा कि हम तुर्की के नेतृत्व से कहना चाहते हैं कि भारत के आंतरिक मामलों में दखल न दें. इसके साथ ही तुर्की के नेतृत्व से उम्मीद है कि वह पाकिस्तान से भारत में आतंकवाद के खतरे के तमाम जानकारियों को जुटाए और जरूरी समझ विकसित करे.

ये भी पढ़ें –

भारत से खाली हाथ जाने की तैयारी में नहीं डोनाल्‍ड ट्रंप, पढ़ें क्‍या है उनका प्‍लान

इमरान संग गलबहियां कर तुर्की के राष्‍ट्रपति ने की कश्‍मीर पर उलटबांसी, MEA ने कहा- तथ्‍य जान लें फिर बोलें

EAM S Jaishankar to US Senator Lindsey Graham, ‘कश्मीर का मामला सुलझा लेगा लोकतंत्र, आप फिक्र न करें’ अमेरिकी सीनेटर को जयशंकर का करारा जवाब
EAM S Jaishankar to US Senator Lindsey Graham, ‘कश्मीर का मामला सुलझा लेगा लोकतंत्र, आप फिक्र न करें’ अमेरिकी सीनेटर को जयशंकर का करारा जवाब

Related Posts

EAM S Jaishankar to US Senator Lindsey Graham, ‘कश्मीर का मामला सुलझा लेगा लोकतंत्र, आप फिक्र न करें’ अमेरिकी सीनेटर को जयशंकर का करारा जवाब
EAM S Jaishankar to US Senator Lindsey Graham, ‘कश्मीर का मामला सुलझा लेगा लोकतंत्र, आप फिक्र न करें’ अमेरिकी सीनेटर को जयशंकर का करारा जवाब