दिल्‍ली एनसीआर में भूकंप के तेज झटके, रिक्‍टर पैमाने पर 4.5 आंकी गई तीव्रता

भूकंप आने के पीछे ये होती है मुख्‍य वजह धरती के अंदर 7 प्लेट्स ऐसी होती हैं जो लगातार घूम रही हैं. ये प्लेट्स जिन जगहों पर ज्यादा टकराती हैं, उसे फॉल्ट लाइन जोन कहा जाता है.
Earthquake tremors felt in Delhi, दिल्‍ली एनसीआर में भूकंप के तेज झटके, रिक्‍टर पैमाने पर 4.5 आंकी गई तीव्रता

देश में लगातार भूकंप (Earthquake) के झटकों के आने का सिलसिला जारी है. पिछले कुछ दिनों में देश में कम तीव्रता के कई भूकंप आ चुके हैं. इसी कड़ी में दिल्ली-NCR में शुक्रवार को भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं. नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी (NCS) के मुताबिक रिक्टर स्केल (Richter Scale) पर  भूकंप की तीव्रता 4.5 दर्ज की गई है.

भूकंप को लेकर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट किया है.

नेशनल सेंटर ऑफ़ सिस्मोलॉजी के मुताबिक शुक्रवार को मिजोरम में चम्फाई के पास दोपहर 2:35 बजे 4.6 रिक्टर तीव्रता का भूकंप आया था.

क्यों आता है भूकंप?

भूकंप आने के पीछे ये होती है मुख्‍य वजह धरती के अंदर 7 प्लेट्स ऐसी होती हैं जो लगातार घूम रही हैं. ये प्लेट्स जिन जगहों पर ज्यादा टकराती हैं, उसे फॉल्ट लाइन जोन कहा जाता है. बार-बार टकराने से प्लेट्स के कोने मुड़ते हैं. जब प्रेशर ज्यादा बनने लगता है कि तो प्लेट्स टूटने लगती हैं. इनके टूटने के कारण अंदर की एनर्जी बाहर आने का रास्ता खोजती है. इसी डिस्टर्बेंस के बाद भूकंप आता है.

देखिये परवाह देश की सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 10 बजे

Related Posts