ED का दावा गलत, इंद्राणी मुखर्जी से कभी नहीं मिला: कार्ति चिदंबरम

पूर्व वित्तमंत्री पी.चिदंबरम की गिरफ्तारी के अगले दिन उनके बेटे और सांसद कार्ति चिदंबरम अपने पिता की गिरफ्तारी को लेकर प्रदर्शन करने और कानूनी लड़ाई की रणनीति को आगे बढ़ाने के लिए दिल्ली में आए हैं.

कार्ति चिदंबरम ने प्रवर्तन निदेशालय (ED) के दावे को खारिज करते हुए कहा कि वह पीटर या इंद्राणी मुखर्जी से कभी नहीं मिले. कार्ति भी अपने पिता पी.चिदंबरम के साथ INX मीडिया मामले में आरोपी हैं. जंतर-मंतर पर मीडिया से बातचीत करते हुए कार्ति ने कहा, “मैंने कभी इंद्राणी मुखर्जी से मुलाकात नहीं की. मैं कभी पीटर मुखर्जी से नहीं मिला.”

हालांकि उन्होंने कहा कि वह CBI पूछताछ के दौरान सिर्फ बायकुला जेल में उससे (इंद्राणी) मिले. कार्ति ने कहा, “मैं अपने पिता (पी.चिदंबरम) के कार्यालय नहीं जाता.” इससे पहले उन्होंने कहा था, “मैं FIPB (विदेशी निवेश संवर्धन बोर्ड) में किसी से नहीं मिला, मैं FIPB की प्रक्रिया नहीं जानता.”

यह इंद्राणी द्वारा ED को दिए गए बयान से स्पष्ट तौर पर विरोधाभासी है. 17 फरवरी 2018 को दर्ज कराए गए बयान में इंद्राणी ने कथित तौर पर दावा किया था कि कार्ति ने उनसे (मुखर्जी) से दिल्ली के हयात होटल में मुलाकात के दौरान 10 लाख डॉलर की रिश्वत की मांग की थी. यह बयान अब अदालत के दस्तावेज का एक हिस्सा है.

पूर्व वित्तमंत्री पी.चिदंबरम की गिरफ्तारी के अगले दिन उनके बेटे और सांसद कार्ति चिदंबरम अपने पिता की गिरफ्तारी को लेकर प्रदर्शन करने और कानूनी लड़ाई की रणनीति को आगे बढ़ाने के लिए दिल्ली में आए हैं. दिल्ली के लिए रवाना होने से पहले उन्होंने अपने पिता की गिरफ्तारी के लिए बीजेपी को जिम्मेदार ठहराया था.

ये भी पढ़ें: ग्रीनलैंड खरीदने की बात पर फंसे ट्रंप, डेनमार्क ने फिरकी लेकर कहा- अमेरिका को खरीदने के लिए तैयार