टेरर फंडिंग केस में ED ने हाफिज सईद और उसके साथियों के खिलाफ दायर की चार्जशीट

ED के एक अधिकारी ने कहा कि एजेंसी ने हाफिज सईद (Hafiz Saeed) के खिलाफ आतंकवाद निरोधक मामले में धन शोधन निवारण अधिनियम, 2002 के तहत आरोप पत्र दायर किया.

हाफिज सईद (FILE)

प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने लश्कर-ए-तैयबा (LeT), जमात-उद-दावा (JuD) और फलाह-ए-इंसानियत फाउंडेशन जैसे प्रतिबंधित आतंकी संगठनों के संस्थापक हाफिज सईद (Hafiz Saeed) के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की है. सईद के साथ ही ईडी ने उसके सहयोगी शाहिद महमूद, मोहम्मद सलमान, दुबई आधारित पाकिस्तानी मोहम्मद कामरान और मोहम्मद सलीम उर्फ मामा, जो कि दिल्ली का एक हवाला ऑपरेटर हैं, उसके खिलाफ भी आरोपपत्र दाखिल किया है.

IANS के मुताबिक, ईडी के एक अधिकारी ने कहा कि एजेंसी ने उसके खिलाफ आतंकवाद निरोधक मामले में धन शोधन निवारण अधिनियम, 2002 के तहत आरोप पत्र दायर किया.

ईडी ने राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) द्वारा सलमान, सलीम और कामरान के खिलाफ IPC की कई धाराओं और गैरकानूनी गतिविधि रोकथाम अधिनियम के तहत दायर चार्जशीट के आधार पर मामला दर्ज किया.

“पाकिस्तान से दुबई और फिर भारत पैसा भेजा जाता था”

अधिकारी ने कहा कि जांच के दौरान यह पता चला कि हवाला चैनलों के माध्यम से पाकिस्तान से दुबई और फिर भारत में पैसा भेजा जाता था. अधिकारी ने कहा, “सलमान दुबई में कामरान और उसके सहयोगियों अब्दुल अजीज बेहलीम और आरिफ गुलाम बाशिर धरमपुरिया द्वारा भेजे गए धन का प्राप्तकर्ता था.”

ईडी ने एनआईए की तरफ से की गई छानबीन के दौरान सलमान, सलीम और धरमपुरिया के घर से गुप्त दस्तावेजों को जब्त किया. एक ईमेल ने सलमान के निर्देश पर मोहम्मद उजैर द्वारा कामरान को ऐसे हवाला लेनदेन को दर्शाया है.

अधिकारी ने बताया कि दुबई से आने वाला पैसा ईमेल और आरोपियों द्वारा पंजीकृत रजिस्टर के आधार पर निर्धारित किया जाता था. अधिकारी ने आगे कहा कि सलमान ने विदेश से मिले पैसे का इस्तेमाल हरियाणा के पलवल के उत्तावर में मस्जिद के निर्माण के लिए और गांव उत्तावर के आसपास की गरीब लड़कियों की शादियों में किया.

FIF के ऑपरेटरों को मिलता था पैसा

अधिकारी ने कहा, “ईडी ने 4.69 करोड़ रुपये की संपत्ति की पहचान की है. ईडी ने नई दिल्ली स्थित आरोपी सलमान की 73.12 लाख की कीमत की तीन अचल संपत्ति भी कुर्क कर ली है.”

टेरर फंडिंग मामले में पाक की कार्रवाई, हाफिज सईद के बहनोई समेत 3 को 16 साल की सजा

सलमान और सलीम फिलहाल न्यायिक हिरासत में हैं. NIA के अनुसार, सलमान को अवैध रूप से संचालित हवाला चैनल के माध्यम से FIF ऑपरेटरों और उनके सहयोगियों से पैसा दिलाने में शामिल पाया गया था.

एफआईएफ पाकिस्तान स्थित एक आतंकवादी संगठन है, जो जमात-उद-दावा द्वारा स्थापित है. इसकी स्थापना लश्कर और जेयूडी के प्रमुख हाफिज सईद ने की थी. फलाह-ए-इंसानियत फाउंडेशन को 14 मार्च 2012 को संयुक्त राष्ट्र द्वारा आतंकवादी संगठन के रूप में नामित किया गया था. हाफिज सईद को भी संयुक्त राष्ट्र ने वैश्विक आतंकवादी के रूप में नामित किया था.

पाक के विदेश मंत्री की UNGA से अपील, ‘इस्लामोफोबिया’ से निपटने के लिए घोषित हो अंतरराष्ट्रीय दिवस

Related Posts