दिल्ली में अपराधी बेखौफ, वसंत एनक्लेव में ट्रिपल मर्डर से सनसनी, बुजुर्ग दंपत्ति-नौकरानी का गला रेता

डीसीपी साउथ वेस्ट देवेंद्र आर्य ने बताया कि पुलिस वसंत एनक्लेव में हुए इस ट्रिपल मर्डर की जांच कर रही है.

वसंत एनक्लेव में ट्रिपल मर्डर, दिल्ली में अपराधी बेखौफ, वसंत एनक्लेव में ट्रिपल मर्डर से सनसनी, बुजुर्ग दंपत्ति-नौकरानी का गला रेता
Delhi Crime

नई दिल्ली: दिल्ली में अपराधी बेखौफ़ हैं और हर रोज़ क़ानून-व्यवस्था की धज्जियां उड़ा रहे हैं. रविवार सुबह दिल्ली के पॉश इलाक़े वसंत एनक्लेव में घर में घुसकर एक बुजुर्ग दंपत्ति और उनकी नौकरानी की हत्या करने का मामला सामने आया है.

घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस ने मौक़े पर पहुंचकर छान-बीन शुरू कर दी है. पुलिस का दवा है कि जल्द ही अपराधियों का पता लगा लिया जाएगा.

पुलिस के मुताबिक़ मरने वाले बुज़ुर्ग का नाम विष्णु माथुर, पत्नी का नाम शशि माथुर और घर में काम करने वाली सहायिका का नाम ख़ुशबू था. ख़ुशबू दिन भर उनके साथ घर में ही रहती थी.

डीसीपी साउथ वेस्ट देवेंद्र आर्य का कहना है कि शुरुआती जांच में यह मामला लूटपाट का नहीं लगता है. पुलिस के मुताबिक़ हत्यारा कोई जानने वाला ही था क्योंकि उन्होंने घर में एंट्री सहूलियत से ली है. फ़िलहाल तीनों शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया गया है.

दिल्ली के महरौली में व्यक्ति ने पत्नी, 3 बच्चों की हत्या की

इससे पहले दक्षिणी दिल्ली के महरौली इलाके में ट्यूशन कर गुजारा कर रहे उपेंद्र शुक्ला को शनिवार सुबह अपने कमरे में अपनी पत्नी और तीन बच्चों के खून से लथपथ शवों के बीच बैठा पाया गया. उसने अपने महज डेढ़ साल के एक बच्चे का भी गला रेत दिया था. कमरा अंदर से बंद था.

सुबह देर तक जब उसका कमरा नहीं खुला, तब उसकी मां ने दरवाजा खटखटाया, मगर कोई जवाब नहीं मिला. तब पड़ोसियों ने दरवाजा तोड़ा. अंदर उपेंद्र शुक्ला अपने हाथ से अपना परिवार खत्म कर बैठा मिला.

पुलिस ने कहा कि उपेंद्र ने पत्नी अर्चना और बच्चों इच्छा, रौनक और छोटे मासूम बेटे, जिसका नाम तक नहीं रखा गया था, के गला रेतने के लिए हाथ से घिसाई करने वाली मशीन का इस्तेमाल किया.

उपेंद्र जिस घर में रहता है, वह महरौली के वार्ड-दो की एक संकरी गली में है. पुलिस ने कहा कि अपराध करने के बाद उपेंद्र ने फरार होने की कोशिश नहीं की. उसने एक पत्र लिख रखा था, जिसमें उसने लिखा था कि आर्थिक तंगी के कारण वह तनाव में था.

महरौली के बाशिदों के लिए चंद दिनों के भीतर स्तब्ध कर देने वाली यह दूसरी घटना है. कुछ ही दिन पहले उपेंद्र के घर के सामने तंजानिया की एक महिला ने केन्या की एक महिला का कत्ल कर दिया था.

Related Posts